पंजाब की आग में जले बिहार के मजदूर

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंजाब में हुई दुर्घटना पर दुख व्यक्त किया है।

लुधियाना में बुधवार तड़क़े हुए भीषण अग्रिकांड में एक ही परिवार के सात लोग जिंदा जल गए जबकि उन्हें बचाने के चक्कर में चार लोग मामूली रूप से झुलस गए। सभी मृतक बिहार के समस्तीपुर जिला के रहने वाले थे।

जानकारी के अनुसार टिब्बा रोड़ स्थित मक्कड़ कालोनी में कई प्रवासी परिवार रहते हैं। इनमें ज्यादातर कबाड़ी का काम करते हैं। मक्कड़ कालोनी में बुधवार को अचानक आग लग गई। जिस समय आग लगी तो ज्यादातर लोग गहरी नींद में थे।

ये भी पढ़ें – पंजाब में भाजपा- कांग्रेस एक साथ! जानिये, क्या है मुद्दा

मची भगदड़
आग लगते ही लोगों में अफरातफरी मच गई और लोग आग पर काबू पाने के साथ-साथ खुद को बचाने में जुट गए। इसी दौरान आसपास भारी भीड़ जमा हो गई। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड तथा पुलिस ने आग पर काबू पाया लेकिन तब तक यहां की एक झुग्गी में रहने वाले सुरेश साहनी के परिवार की मौत हो चुकी थी। आग पर काबू पाने के बाद बाहर निकाले गए मृतकों की शिनाख्त सुरेश साहनी (55), उसकी पत्नी अरुणा देवी (52) बेटी राखी (15), मनीषा (10), गीता (8), चंदा (5) व सन्नी (2) के रूप में हुई है।

ऐसे बच गया बड़ा बेटा
घटना में परिवार का बड़ा बेटा राजेश बच गया जो रात अपने दोस्त के घर सोने के लिए गया हुआ था। राजेश ने बताया कि वह मूल रूप से बिहार के समस्तीपुर जिला के रहनेवाले हैं। उसके पिता सुरेश कुमार कबाड़ का काम करते थे। बीती रात पूरे परिवार ने इकट्ठे खाना खाया और टीवी देखने के बाद सौ गए।

घटना की सूचना मिलते ही सिविल अस्पताल से डाक्टरों की टीम, डीसी सुरभि मालिक व पुलिस कमिश्नर कौस्तुभ शर्मा मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शवों को बाहर निकाल सिविल अस्पताल पहुंचा दिया है। मृतकों के परिजनों को बिहार में सूचित कर दिया गया है। पुलिस द्वारा फायर ब्रिगेड की मदद से यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि आग किन कारणों से लगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here