NEET Result Controversy: नीट रिजल्ट मामले में बड़ा अपडेट, सर्वोच्च न्यायालय ने NTA को जारी किया नोटिस

सर्वोच्च न्यायालय आज नीट परीक्षा में अनियमितताओं के मामले की सुनवाई कर रहा है।

68

सर्वोच्च न्यायालय (Supreme Court) ने आदेश दिया है कि नीट परीक्षा (NEET Exam) को लेकर अगली सुनवाई (Hearing) 8 जुलाई को होगी। सर्वोच्च न्यायालय ने नीट परीक्षा रद्द करने की याचिका (Petition) पर अहम आदेश पारित किया है। नीट को लेकर अगली सुनवाई 8 जुलाई को होगी। सर्वोच्च न्यायालय ने एनटीए (NTA) को नोटिस (Notice) भेजा है। तो एनटीए को जवाब देना होगा।

याचिकाकर्ताओं (Petitioners) की मांग है कि मौजूदा एडमिशन रद्द किया जाना चाहिए। लेकिन कोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया है। क्या अगले महीने की 8 तारीख को होने वाली सुनवाई में कोर्ट कोई अहम निर्देश देगा? ये देखना अहम होगा। नीट पेपर लीक के मद्देनजर परीक्षा रद्द करने की याचिकाओं पर सर्वोच्च न्यायालय ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

यह भी पढ़ें- Delhi Water Crisis: हरियाणा से आने वाला पानी कहां गायब? दिल्ली के उपराज्यपाल ने बुलाई मंत्रियों की बैठक

आखिर क्या है नीट परीक्षा को लेकर विवाद?
नीट 2024 रिजल्ट के बाद बड़ा विवाद शुरू हो गया है। नतीजों में गड़बड़ी और ग्रेस मार्क्स दिए जाने के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय में कई याचिकाएं दायर की गई हैं। कई छात्रों ने कई तरह की त्रुटियों की शिकायत की है। परीक्षा रद्द कर दोबारा परीक्षा कराने की मांग की जा रही है। इस परीक्षा को आयोजित कराने वाली एजेंसी एनटीए के खिलाफ छात्रों का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है। जेएनयू छात्र संघ आइसा ने सोमवार को दिल्ली में विरोध प्रदर्शन किया। ऐसा लग रहा है कि देशभर के छात्र इस रिजल्ट के खिलाफ अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं।

नीट का रिजल्ट 4 जून को घोषित किया गया था। छात्रों का आरोप है कि इस रिजल्ट में गड़बड़ी हुई है। लखनऊ की आयुषी पटेल ने आरोप लगाया कि एनटीए से उन्हें जो ओएमआर शीट मिली थी, वह फट गई थी। वह कह रही हैं कि उनके साथ बहुत बड़ा घोटाला हुआ है। जिस दिन रिजल्ट घोषित हुआ, उस दिन उनका रिजल्ट नजर नहीं आया। एक घंटे बाद एनटीए की ओर से मेल आया। आयुषी ने कहा है कि इसमें उल्लेख है कि उसकी ओएमआर शीट फटी और क्षतिग्रस्त पाई गई और परिणाम जारी नहीं किया जा सका।

नतीजों पर विवाद की वजह क्या है?
ओएमआर शीट फाड़ने का आरोप है। कई छात्रों का रिजल्ट ऑनलाइन नहीं दिख रहा है। कई छात्रों के अंक कम हैं, यानी उन्हें ओएमआर शीट के अनुसार जितने अंक मिलने चाहिए थे, वह नहीं मिले हैं। इस बार नीट रिजल्ट में कुल 67 छात्रों ने 10 में से 10 अंक हासिल किए हैं। एक ही सेंटर से 6 टॉपर आए हैं। कुछ छात्रों ने तो 718 और 719 अंक भी प्राप्त किए हैं, जिसे असंभव कहा जाता है।

देखें यह वीडियो- 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.