उत्तराखण्ड में त्राहिमाम… चारधाम यात्रा को लेकर भी आई बड़ी सूचना

प्रदेश में वर्षा ने त्राहिमाम मचाया हुआ है। इसके कारण कई जिलों में जलजमाव और पहाड़ी नदियों ने जल प्रलय मचाया हुआ है। कई नदियां उफान पर हैं, पुल टूट गए हैं और सड़कें थम गई हैं।

राज्य में मौसम विभाग ने ऑरेंज एलर्ट जारी किया है। मूसलाधार बारिश के कारण उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर, पिथौरागढ़ में ऊंचे स्थानों पर बर्फ भी गिर सकती है। हल्दवानी में गौरा नदी का पुल आंशिक रूप से बह गया है, इसी प्रकार चंपावत में चालथी नदी का निर्माणाधीन पुल बह गया है।

ये भी पढ़ें – कश्मीर में होगा आतंक का अंत? एक्शन में शाह, शीर्ष अधिकारियों के साथ की बैठक

चारधाम यात्रा को विराम
चारधाम देवस्थानम बोर्ड ने मौसम के बिगड़े तेवर को देखते हुए चार धाम यात्रा को हरिद्वार और ऋषिकेश में रोक दिया गया है। मौसम साफ होने के बाद इस यात्रा को बद्रीनाथ और केदारनाथ के लिए आगे भेजा जाएगा।

मुख्यमंत्री कमान संभाली
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अपने पूर्वनियोजित सभी कार्यक्रम रद्द करके आपदा कंट्रोल रूम पहुंच गए हैं। वहां से सभी जिलाधिकारियों से संपर्क करके स्थिति की समीक्षा और राहत बचाव कार्यों का संचालन किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने ली जानकारी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से फोन पर स्थिति की जानकारी प्राप्त की है। बाढ़ प्रभावित जिलों में एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दल तैनात किये गए हैं।

देखते ही देखते जलसमाधी
कुमाऊं रेंज में बारिश और बाढ़ का कहर बहुत विकराल है, इसका एक वीडियो भी एक ट्वीटर यूजर ने साझा किया है। जिसमें एक घर बाढ़ में समाधिस्थ हो गया। बारिश का कहर इंसानों के लिए ही नहीं जानवरों के लिए भी त्रासदायक बन गया है। लोगों के घरों में पानी है, और पालतू जानवर सड़कों में बाढ़ के पानी में लावारिस स्थिति में अपनी जान बचाने को घूम रहे हैं।

नैनीताल झील ओवरफ्लो हो गई है, इसके कारण आसपास के क्षेत्र में झील का पानी भर गया है। बांध के पानी की तीव्रता उसकी विकरालता की कहानी कह रहा है। यह सभी वीडियो ट्वीटर यूजर्स ने शेयर किये हैं, जिसकी तथ्य परकता जांचना आवश्यक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here