अमेरिका जा रहे हैं? तो कोरोना टेस्टिंग का नया नियम आपकी परेशानी हल कर देगा

भारत से अमेरिका जानेवाले यात्रियों के लिए कोविड-19 जांच की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य थी।

अंतरराष्ट्रीय आवागमन के लिए अमेरिका ने कोविड संबंधी नियमों में बदलाव करते हुए बोर्डिंग से एक दिन पहले यात्रियों द्वारा कोरोना टेस्ट कराने की अनिवार्यता अब समाप्त कर दी है।

एक वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी के मुताबिक यह नियम रविवार रात 12 बजे के बाद से लागू हो जाएगा। अधिकारी के अनुसार सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन ने तय किया है कि अब इसकी जरूरत नहीं है।

ये भी पढ़ें – महाराष्ट्र राज्यसभा निर्वाचन में तीसरी जीत भी भाजपा की ही, देर रात ऐसे हुआ राजनीतिक पटाक्षेप

बाइडेन प्रशासन ने इस टेस्ट को पिछले साल अनिवार्य बनाया था। उसके बाद यूरोप, चीन, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका, भारत और ईरान समेत कई देशों पर लगे यात्रा प्रतिबंध हटा दिए थे। इसके बदले में नियम बनाया गया था कि अमेरिका की यात्रा कर रहे अन्य देशों के लोग पूर्ण टीकाकरण होने चाहिए। साथ ही पूर्ण टीकाकरण कराने वाले यात्री का तीन दिन पहले की जांच में निगेटिव होना जरूरी है। वहीं नॉन वैक्सीनेटेड लोगों से यह टेस्ट यात्रा के एक दिन पहले का मांगा गया था।

बीते साल नवंबर में ओमिक्रोन वेरिएंट का खतरा सबसे ज्यादा बढ़ गया था, तब बाइडन प्रशासन ने सभी यात्रियों के लिए पाबंदियां सख्त कर दी थीं। इस दौरान पूर्ण टीकाकरण और बिना टीकाकरण वाले सभी लोगों के लिए पाबंदियां समान रूप से लागू की गई थीं। इस बीच एयरलाइंस और टूरिज्म ग्रुप सरकार पर इन पाबंदियों को हटाने का लगातार दबाव बना रहे थे। उनका कहना था कि इन प्रतिबंधों के चलते लोग अमेरिका की यात्रा करने से परहेज कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here