Ramlala Pran pratishtha: अगर आप जाना चाहते हैं प्रभु की नगरी अयोध्या, तो ये खबर आपके लिए है

अयोध्या नगर के प्रसिद्ध होटल कृष्णा में 25 जनवरी तक ठहरे के लिए कोई भी कमरा खाली नहीं है।

494

Ayodhya: श्रीराम जन्मभूमि मंदिर(Shri Ram Janmabhoomi Temple) में आगामी 22 जनवरी को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा(Ramlala’s life prestige) के मद्देनजर अयोध्या(Ayodhya) के सभी होटल, लॉज और गेस्ट हाउस फुल हो गए हैं। किसी में भी ठहरने के लिए कमरा खाली नहीं है। ऐसे में यदि आप प्राण प्रतिष्ठा समारोह(life consecration ceremony) में शामिल होने के लिए होटल बुक(Hotel book)करने की सोच रहे हैं तो अयोध्या के बाहर के होटलों में प्रयास करिए। शायद काम बन जाए।

सभी छोटे-बड़े होटल फुल
सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक अयोध्या के अधिकांश नामचीन होटलों के सभी कमरे पहले से ही बुक(All rooms in most of the renowned hotels are already booked.) हो चुके हैं। यही हाल छोटे-बड़े होटलों, गेस्ट हाउस और लॉज की भी है। ऐसे में अयोध्या आने वाले उन श्रद्धालुओं को अब ठहरने के लिए अयोध्या से दूर बने होटलों में कमरे बुक कराने होंगे। देश ही नहीं विदेशों में भी बसे हिंदुओं की भी निगाहें श्रीराम जन्मभूमि मंदिर(Shri Ram Janmabhoomi Temple) में होने वाले प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम की ओर लगी हैं। ऐसे मौके पर हर कोई राम मंदिर में दर्शन करना चाहता है, लेकिन इस मौके पर अयोध्या के होटलों में लोगों के ठहरने के लिए अब कमरे खाली नहीं हैं।

PM Modi: विकसित भारत संकल्प यात्रा सिर्फ एक महीने में हजारों गांवों और शहरों तक पहुंची: पीएम मोदी

25 जनवरी तक कोई कमरा नहीं
अयोध्या नगर के प्रसिद्ध होटल कृष्णा में 25 जनवरी तक ठहरे के लिए कोई भी कमरा खाली नहीं है। यहां कमरे पहले से ही बुक हो चुके हैं। होटल शान-ए-अवध में 11से 23 जनवरी के बीच कोई भी कमरा ठहरे के लिए खाली नहीं है। ऐसे ही अयोध्या धाम स्थित रामप्रस्थ होटल में 15 से 25 जनवरी के बीच कोई कमरा खाली नहीं है। राम जानकी महल ट्रस्ट में तो 15 जून तक सभी कमरे पहले से ही बुक हो चुके हैं। वैसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में लोगों को यहां ठहरने में आने वाली असुविधा की स्थिति से निपटने के लिए टेंट सिटी एवं घरों में पेइंग गेस्ट रूम की व्यवस्था कराई है फिर भी विदेशी एवं धनाढ्य लोगों के लिए होटलों में ठहरने की व्यवस्था काफी जटिल हो चुकी है। उनको ठहरने के लिए अयोध्या से बाहर बने होटलों में व्यवस्था करनी पड़ रही है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.