मध्य प्रदेश : जोमैटो के विज्ञापन पर महाकाल मंदिर प्रबंधन ने जताई आपत्ति, गृहमंत्री ने दिया ये निर्देश

ऑनलाइन फूड डिलेवरी कंपनी जोमैटो ने अपने एक विज्ञापन में महाकाल मंदिर उज्जैन से जोड़ते हुए महाकाल थाली पर एक विज्ञापन बनाया है।

ऑनलाइन फूड डिलेवरी करने वाली एक कंपनी के महाकाल थाली के नाम से विज्ञापन पर उठे विवाद ने तूल पकड़ लिया है। महाकाल मंदिर प्रबंधन के इस विज्ञापन पर आपत्ति जताने के बाद अब प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने इस वायरल वीडियो की जांच कराने के लिए उज्जैन एसपी को निर्देश दिए हैं।

गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने 21 अगस्त को पत्रकारों को बताया कि शुरुआत में वीडियो मार्फिन नजर आ रहा है। मैंने एसपी उज्जैन को जांच कराने के लिए कहा है। यह वीडियो मार्फिन किया गया है या नहीं, इसकी जांच कर रिपोर्ट मांगी है।

यह है मामला
बता दें कि ऑनलाइन फूड डिलेवरी कंपनी जोमैटो ने अपने एक विज्ञापन में महाकाल मंदिर उज्जैन से जोड़ते हुए महाकाल थाली पर एक विज्ञापन बनाया है। कंपनी का यह विज्ञापन फिल्म अभिनेता ऋतिक रोशन पर शूट किया गया है। विज्ञापन में फिल्म एक्टर ऋतिक रोशन कहते दिखते हैं कि थाली का मन किया। उज्जैन में हैं, तो महाकाल से मंगा लिया। इस विज्ञापन को देखने के बाद से उज्जैन के महाकाल मंदिर प्रबंधन ने जोमैटो कंपनी और विज्ञापन में काम करने वाले अभिनेता ऋतिक रोशन से माफी मांगने की मांग करते हुए विज्ञापन को तत्काल प्रभाव से बंद करने की अपील की थी।

ये भी पढ़ें – पूर्वोत्तर रेलवे के सौ स्टेशनों पर निजी कंपनियो को सौंपी जाएगी टिकट व्यवस्था? जानें, क्या है खबर

कोर्ट में जाने की दिखाई तैयारी
इस संबंध में महाकाल मंदिर के मुख्य पुजारी व अखिल भारतीय महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश शर्मा ने बताया कि महाकाल के नाम से कोई भी प्रचार गलत है, क्योंकि यह कंपनी नॉन वेज व वेज दोनों बेचती है। अगर कंपनी ने बात नहीं मानी तो वह कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। हालांकि, उन्होंने सनातन धर्म में सहिष्णुता होने की बात कहते हुए कहा कि अगर दूसरा धर्म या समुदाय होता तो अब तक कंपनी फूंक देता। उन्होंने कहा ऋतिक रोशन व कंपनी दोनों माफी मांग लें। हालांकि इस मामले में उज्जैन जिला प्रशासन ने तर्क दिया कि इस तरह का प्रचार भ्रामक है और मंदिर से कोई थाली डिलीवर नहीं की जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here