Diwali 2023: अयोध्या में दीपोत्सव पर मुख्यमंत्री योगी ने दिया ये संदेश

मुख्यमंत्री ने अपने उद्बोधन के दौरान दुनिया के 54 देशों से अयोध्या पधारे राजनयिकों का स्वागत एवं अभिनंदन करते हुए कहा कि दीपोत्सव का हर संस्करण पूरी दुनिया में भव्यता के साथ आगे बढ़ रहा है।

639

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां राम की पैड़ी से देश और प्रदेशवासियों को दीपावली और दीपोत्सव की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि भगवान श्रीराम द्वारा आसुरी शक्तियों के अंत के संकल्प की पूर्ति का उल्लास है दीपोत्सव। हमारा प्रयास होना चाहिए कि दीपोत्सव का ये पर्व देश के हर गरीब और वंचितों के जीवन में नई खुशहाली लेकर आए। उन्होंने कहा कि अयोध्या को वैश्विक मान्यता दिलाना ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का विजन है।

श्रीराम के संकल्प की पूर्ति का महापर्व है दीपोत्सव
मुख्यमंत्री ने अपने उद्बोधन के दौरान दुनिया के 54 देशों से अयोध्या पधारे राजनयिकों का स्वागत एवं अभिनंदन करते हुए कहा कि दीपोत्सव का हर संस्करण पूरी दुनिया में भव्यता के साथ आगे बढ़ रहा है। दीपावली का आयोजन पूरे भारत में श्रीराम के 14 वर्ष के वानवास के उपरांत अयोध्या वापसी के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। ये उत्सव भगवान राम के केवल वनागमन से वापसी का नहीं है बल्कि वन्य क्षेत्र को अभय प्रदान करना, नकारात्मक शक्तियों और राक्षसी प्रवृतियों का सर्वथा अंत करने का जो सकल्प उन्होंने लिया था, उसकी पूर्ति के बाद अयोध्या आगमन और यहां रामराज्य के आधारशिला की शुरुआत का महाउत्सव है।

2014 प्रधानमंत्री ने रखी श्रीराम के संकल्पों की एक बार फिर आधारशिला
संपूर्ण भारत में रामराज्य की अवधारणा, जिसमें व्यक्ति-व्यक्ति के बीच जाति, मत, मजहब के आधार पर भेद भाव न हो, इसी संकल्प का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2014 में एक बार फिर आधारशिला रखी। आगामी जनवरी माह में प्रभु श्रीराम के मंदिर का यहां भव्य रूप उद्घाटन होने जा रहा है। उन्होंने कहा कि ये आयोजन और भी भव्यता के साथ भगवान श्रीराम के आदर्शों के अनुरूप एक नई खुशहाली और समृद्धि की ओर हमें अग्रसर करता रहेगा। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए पिछले चार दिन से जुटे 25 हजार वॉलेंटियर्स को विशेष रूप से धन्यवाद दिया।

ये रहे उपस्थित
इस अवसर पर प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक, सरकार में मंत्री सूर्य प्रताप शाही, जयवीर सिंह, राकेश सचान, 54 देशों के राजनयिक, अयोध्या के सांसद लल्लू सिंह, सभी विधायकगण, जिला पंचायत अध्यक्ष, साधु-संत एवं विभिन्न मठों के महंतगण, भाजपा, विहिप एवं विभिन्न सांस्कृति सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधिगण व प्रदेश सरकार के वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद रहे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.