Chardham: मुख्यमंत्री सख्त, अधिकारियों को दिये ये निर्देश

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग से केदारनाथ यात्रा के बारे में जानकारी ली। जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग सौरभ गहरवार ने बताया कि केदारनाथ में यात्रा सुचारू रूप से चल रही है।

332

Chardham: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने 17 मई को चारधाम यात्रा के इंतजामों की समीक्षा करते हुए कहा कि अधिकारी लगातार यात्रा की मॉनिटरिंग करते रहें। यात्रा व्यवस्थाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। पंजीकरण के अनुसार ही श्रद्धालुओं को चारधाम यात्रा की अनुमति दी जाए। इसके साथ ही ठहराव स्थलों पर यात्रियों को जरूरी सुविधाएं मिलें, ताकि उन्हें यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार का अनावश्यक परेशानियों का सामना न करना पड़े।

सचिवालय में यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री ने चारधाम से जुड़े जनपदों के जिलाधिकारियों से विभिन्न व्यवस्थाओं का फीडबैक लिया। उन्होंने कहा कि यात्रा व्यवस्थाओं में सभी अधिकारी चारधाम यात्रा से जुड़े जनपदों के जिलाधिकारी और एसपी का पूरा सहयोग करें। यात्रा व्यवस्थाओं में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था जरुरी
बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि यात्रियों को जिन स्थानों पर ठहराने की व्यवस्थाएं की गई हैं, उन स्थानों पर सभी मूलभूत सुविधाएं पेयजल, विद्युत, शौचालय, खानपान और बच्चों के लिए दूध और अन्य आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध रहें। चारधाम पैदल मार्गों पर श्रद्धालुओं को पेयजल एवं अन्य सुविधाएं पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हों। चारधाम यात्रा के दौरान भीड़ प्रबंधन और श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए वैकल्पिक मार्गों की व्यवस्था करके श्रद्धालुओं को इन मार्गों के बारे में जानकारी भी दी जाए।

परिवहन अधिकारियों की जिम्मेदारी तय हो
मुख्यमंत्री ने सचिव परिवहन को निर्देश दिये कि वाहनों की फिटनेस का विशेष ध्यान रखा जाए। बिना फिटनेस के कोई वाहन यात्रा मार्ग पर चल रहे हैं तो इसके लिए सबंधित परिवहन अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाए। मुख्यमंत्री ने रजिस्ट्रेशन के अनुसार ही श्रद्धालुओं को चारधाम यात्रा पर भेजा जाए। ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन को फिलहाल स्थगित रखा जाए।

पैदल मार्ग से 08 हजार यात्री पहुंचे केदारनाथ
मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग से केदारनाथ यात्रा के बारे में जानकारी ली। जिलाधिकारी रूद्रप्रयाग सौरभ गहरवार ने बताया कि केदारनाथ में यात्रा सुचारू रूप से चल रही है। आज अभी तक केदारनाथ में 11 हजार हजार श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं, पैदल मार्ग से 08 हजार यात्री दर्शन के लिए गये हैं। ठहराव वाले स्थानों पर श्रद्धालुओं के लिए सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। सीसीटीवी के माध्यम से यात्रा मार्ग पर वाहनों के आवागमन की व्यवस्थाओं की कंट्रोल रूम से निगरानी की जा रही है।

मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध
जिलाधिकारी उत्तरकाशी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट ने गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की यात्रा के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि आज गंगोत्री धाम में 11 हजार और यमुनोत्री धाम में 10 हजार श्रद्धालुओं के दर्शन करने की संभावना है। श्रद्धालुओं के लिए जिन स्थानों पर ठहराव की व्यवस्था की गई हैं, वहां पर सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।

Swati Maliwal Assault: “जिस हद तक गिर सकता है गिर जा, एक दिन सच्चाई सामने आएगी”- स्वाति

फर्जी पंजीकरण पर सख्त कार्रवाई
जिलाधिकारी चमोली हिमांशु खुराना ने कहा कि बदरीनाथ में यात्रा सुचारू रूप से चल रही है। आगामी सप्ताह में अवकाश के दृष्टिगत श्रद्धालुओं की संख्या में वृद्धि के दृष्टिगत भी सभी व्यवस्थाएं की जा रही हैं।

बैठक में प्रमुख सचिव आरके सुधांशु,सचिव अरविन्द सिंह ह्यांकी, डॉ. पंकज कुमार पाण्डेय, सचिन कुर्वे, गढ़वाल कमिश्नर विनय शंकर पाण्डेय, सचिव एसएन पाण्डेय, विशेष सचिव डॉ. पराग मधुकर धकाते, महानिदेशक सूचना बंशीधर तिवारी, जिलाधिकारी देहरादून सोनिका, एसएसपी अजय सिंह, वर्चुअल माध्यम से डीजीपीअभिनव कुमार, जिलाधिकारी हरिद्वार धीराज गर्ब्याल उपस्थित थे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.