Chardham Yatra: गलत रील बनाना और नशा करना पड़ेगा भारी, पुलिस ने जारी किए दिशानिर्देश

बाबा केदारनाथ धाम के कपाट 11 मई को आम श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए हैं। पुलिस अधीक्षक ने कहा कि धाम पहुंचने के लिए हेली सेवा के लिये अधिकृत प्लेटफार्म पर ही संपर्क करें।

382

Chardham Yatra: उत्तराखंड के जनपद रुद्रप्रयाग स्थित विश्व प्रसिद्ध बाबा केदारनाथ धाम की पवित्रता खराब करने वालों पर पुलिस की पैनी नजर रहेगी। धाम में नशे का सेवन करने व हुड़दंग मचाने वालों पर पुलिस की ओर से सख्त कार्रवाई की जायेगी। धाम परिसर में गलत रील्स बनाने वालों और पैसे लेकर दर्शन कराने वालों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जायेगी। पुलिस ने इसके लिए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

बाबा केदारनाथ धाम के खुले कपाट
बाबा केदारनाथ धाम के कपाट 11 मई को आम श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए हैं। सुव्यवस्थित यात्रा के दृष्टिगत धाम पहुंच रहे श्रद्धालुओं को सभी आवश्यक सुविधाएं और सुरक्षा व्यवस्थाएं उपलब्ध कराए जाने के लिये पुलिस-प्रशासन की टीम केदारनाथ धाम में मौजूद हैं। पुलिस अधीक्षक डॉ. विशाखा अशोक भदाणे ने बताया कि धाम पहुंच रहे श्रद्धालुओं की सुविधा के दृष्टिगत यहां पर तैनात पुलिस की टीम को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा दर्शन करने आ रहे श्रद्धालुओं को आवश्यकता के अनुसार पैदल मार्ग और अन्य मूलभूत आवश्यकताएं, जानकारियां साझा की जा रही हैं। उन्होंने केदारनाथ धाम पहुंच रहे श्रद्धालुओं से अपील करते हुए कहा कि धाम की मर्यादा का विशेष ध्यान रखा जाए। पुलिस श्रद्धालुओं की हरसंभव मदद के लिए तत्पर है।

Uttarakhand: खुले भगवान के द्वार तो खिले रोजगार, जानिये अब तक कितने लाख भक्तों ने कराया पंजीकरण

पैसे लेकर दर्शन कराने वालों की करें शिकायत
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि धाम पहुंचने के लिए हेली सेवा के लिये अधिकृत प्लेटफार्म पर ही संपर्क करें। किसी भी तरह की जालसाजी से बचने के लिए अलर्ट रहें। सुखद यात्रा का अनुभव लेकर लौटें। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम में यदि धाम के जल्दी दर्शन कराये जाने को लेकर किसी के द्वारा पैसों की डिमाण्ड की जाती है तो उसकी तुरन्त शिकायत दर्ज करायें। ऐसे लोगों के विरुद्ध पुलिस के स्तर से कार्रवाई की जायेगी। पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में केदारपुरी में ऑपरेशन मर्यादा अभियान चलाया गया। इस दौरान धाम परिसर में नशा आदि का सेवन कर रहे व्यक्तियों के चिह्नीकरण और धरपकड़ की कार्रवाई की गयी।

इस अवसर पर पुलिस उपाधीक्षक केदारनाथ यात्रा अविनाश वर्मा, पुलिस उपाधीक्षक गुप्तकाशी श्रीमती हर्षवर्धनी सुमन, प्रतिसार निरीक्षक विकास पुंडीर आदि मौजूद रहे।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.