World Defense Show: सऊदी अरब के ‘वर्ल्ड डिफेंस शो’ में दिखी भारतीय सशस्त्र बलों की नारी शक्ति

वर्ल्ड डिफेंस शो 04 फरवरी को शुरू हुआ था, जिसका गुरुवार को समापन हो गया। सशस्त्र बलों की इन तीनों महिलाओं ने आज रियाद के इंटरनेशनल इंडियन स्कूल में अपनी प्रेरणादायक उल्लेखनीय यात्रा के संस्मरण साझा किये। इस दौरान विभिन्न स्कूलों के लगभग 600 स्कूली छात्र उपस्थित रहे।

392

World Defense Show: सऊदी अरब (Saudi Arabia) की मेजबानी में पांच दिनों तक चले वर्ल्ड डिफेंस शो (World Defense Show) में भारतीय सशस्त्र सेनाओं (Indian Armed Forces) की महिला शक्ति (Nari Shakti) दिखी। स्क्वाड्रन लीडर भावना कंठ (Squadron Leader Bhavana Kanth) , कर्नल पोनुंग डोमिंग (Colonel Ponung Doming) और लेफ्टिनेंट कमांडर अन्नू प्रकाश (Lieutenant Commander Annu Prakash) ने विशेष रूप से रक्षा थीम वाले कार्यक्रमों में देश के सशस्त्र बलों का प्रतिनिधित्व किया। इस शो के लिए रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट (Ajay Bhatt) ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल के साथ रियाद का दौरा किया।

वर्ल्ड डिफेंस शो 04 फरवरी को शुरू हुआ था, जिसका गुरुवार को समापन हो गया। सशस्त्र बलों की इन तीनों महिलाओं ने आज रियाद के इंटरनेशनल इंडियन स्कूल में अपनी प्रेरणादायक उल्लेखनीय यात्रा के संस्मरण साझा किये। इस दौरान विभिन्न स्कूलों के लगभग 600 स्कूली छात्र उपस्थित रहे। इस कार्यक्रम ने सेना की वर्दी में भारतीय महिलाओं की बहुमुखी प्रतिभा और नेतृत्व कौशल को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच के रूप में काम किया, जो भावी पीढ़ियों को अपने सपनों को साकार करने और नए आधार खोजने के लिए प्रेरित करेगा। वर्ल्ड डिफेंस शो वर्ष में भारतीय सशस्त्र सेनाओं की इन तीन महिला अधिकारियों की भागीदारी ने रक्षा परिदृश्य में भारतीय महिलाओं की बढ़ती भूमिका को साबित किया।

गणतंत्र दिवस परेड में भी लिया था हिस्सा
शो के दौरान 07 फरवरी को अमेरिका में सऊदी राजदूत राजकुमारी रीमा बिन्त बन्दर अल-सऊद की ओर से ‘रक्षा क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय महिलाएं-एक समावेशी भविष्य में निवेश’ बिषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया। इसमें भारतीय वायु सेना की लड़ाकू पायलट स्क्वाड्रन लीडर भावना कंठ पैनलिस्ट के रूप में शामिल हुईं। स्क्वाड्रन लीडर ने तमाम बाधाओं को पार करने के बाद आकाश में उड़ान भरने की अपनी प्रेरक यात्रा के संस्मरण साझा किए। उन्होंने बताया कि वे किस प्रकार भारत में प्रतिष्ठित लड़ाकू पायलट क्लब का हिस्सा बनीं। आधुनिक युद्ध में महिलाओं की उभरती भूमिका पर अपने विचारों से उन्होंने सेमिनार में शामिल लोगों को प्रभावित किया। स्क्वाड्रन लीडर भावना कंठ वर्ष 2021 में गणतंत्र दिवस परेड भाग लेने वाली पहली महिला फाइटर पायलट हैं। उन्होंने इस साल की गणतंत्र दिवस परेड फ्लाईपास्ट में भी भाग लिया था।

Delhi Liquor Scam: अरविंद केजरीवाल कट्टर बेईमान और भ्रष्टाचारी: भाजपा

महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका
भारतीय सेना की कर्नल पोनुंग डोमिंग उत्तरी क्षेत्र में 15 हजार फीट से अधिक ऊंचाई पर स्थित दुनिया की सबसे ऊंची बॉर्डर टास्क फोर्स की कमान संभालने वाली पहली महिला अधिकारी हैं। उन्होंने 20 साल से अधिक की सेवा में कई बार प्रथम स्थान हासिल किया है। एक इंजीनियरिंग अधिकारी होने के नाते वह कई चुनौतीपूर्ण कार्यों में सबसे आगे रही हैं। भारतीय नौसेना की लेफ्टिनेंट कमांडर अन्नू प्रकाश ने समुद्री सुरक्षा और संचालन में अपनी विशेषज्ञता प्रदर्शित की है। सेमिनार में उन्होंने भारत की विशाल तटरेखा की सुरक्षा और क्षेत्रीय स्थिरता सुनिश्चित करने में महिलाओं की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित किया। कार्यक्रम में उनकी उपस्थिति से समुद्री क्षेत्र में भारत और अन्य देशों के बीच मजबूत संबंधों और सहयोग को बढ़ावा देने में मदद मिली।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.