मारा गया कुख्यात आतंकी! बड़े हमले की रच रहा था साजिश

12 अगस्त की शाम से जारी मुठभेड़ 13 अगस्त की सुबह खत्म हुई। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया, जबकि दूसरा भागने में सफल हो गया।

साउथ कश्मीर के कुलगाम जिले के मालपोरा मीर बाजार में जारी मुठभेड़ समाप्त हो गई। 12 अगस्त की शाम से जारी मुठभेड़ 13 अगस्त की सुबह खत्म हुई। इस मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने एक आतंकी को ढेर कर दिया, जबकि दूसरा भागने में सफल हो गया। बताया जा रहा है कि रात के अंधेरे का फायदा उठाते हुए वह घटनास्थल से फरार होने में सफल हो गया।

मुठभेड़ के बाद सुरक्षाबलों ने पूरे क्षेत्र की सुरक्षा को लेकर तलाशी अभियान चलाया और आश्वस्त होने के बाद उसने जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग को याययात के लिए खोलने की इजाजत दे दी। दोनों आतंकी लश्कर-ए- तैयबा संगठन के बताए गए हैं। हालांकि मौत के घाट उतारे गए आरोपी की पहचान अभी तक नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़ेंः अफगानिस्तान में फंसे अपने नागरिकों को भारत सरकार की सलाह!

आईजीपी ने दी जानकारी
कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने एक आंतकी के मारे जाने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि पूरी रात और 13 अगस्त की सुबह आतंकियों की ओर से गोलीबारी की जाती रही। सुरक्षाबलों ने उन्हें सुबह आत्मसमर्पण का एक और मौका दिया, लेकिन उन्होंने गोलीबारी जारी रखी। जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी मारा गया, जबकि एक भागने में सफल हो गया। मारे गए आंतकी की पहचान उस्मान के रुप में हुई है। हालांकि अभी तक उसके बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल पाई है।

स्वतंत्रता दिवस से पहले करना चाहता था आतंकी कार्रवाई
आईजीपी ने बताया कि वह एक खतरनाक आतंकी था और स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षाबलों पर बड़े हमले की साजिश रच रहा था। ढेर किए गए आतंकी के बाद से एक एके-47 राइफल, चार मैगजीन, कई हथगोले और एक आरपीजी लांचर सेल बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि दूसरे आरोपी पर हमारी नजर है और उसे हम बहुत जल्द पकड़ लेंगे। ये आतंकी सुरक्षाबलों से बचने के लिए एक इमारत में छिपे हुए थे, जिसे सुरक्षाबलों ने घेर रखा था। बता दें कि स्वतंत्रता दिवस पर आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर सुरक्षाबल अलर्ट पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here