गाजा से 10 हजार फिलिस्तिनी घर छोड़कर भागे! गृह युद्ध का खतरा बढ़ा

संयुक्त राष्ट्र द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार गाजा से अब तक 10 हजार से अधिक फिलिस्तिनी पलायन कर चुके हैं। इसी के साथ इजरायल और फिलिस्तीन के बीच तेज होते युद्ध के कारण इजरायल में अब गृह युद्ध का खतरा बढ़ गया है।

गाजा पर लगातार हो रहे इजरायली हमले और रॉकेट दागे जाने के से मची तबाही के कारण लोगों में घबराहट और दहशत फैल गई है। इस कारण वहां से बड़े पैमाने पर फिलिस्तीनियों  का पलायन शुरू हो गया है। बताया जा रहा है कि पिछले कुछ दिनों में यहां से 10 हजार से ज्यादा लोगों ने पलायन किया है। इसी के साथ इजरायल में गृह युद्ध होने का खतरा बढ़ गया है।

संयुक्त राष्ट्र द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार गाजा से अब तक 10 हजार से अधिक फिलिस्तिनी पलायन कर चुके हैं। इजरायल और फिलिस्तीन के बीच तेज होते युद्ध के कारण इजरायल में अब गृह युद्ध का खतरा बढ़ गया है। कई शहरों में सऊदी अरब मूल के लोगों के साथ पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों के टकराव की खबरें आ रही हैं। इस बीच सऊदी अरब और अमेरिका ने युद्ध समाप्त करने के लिए प्रयास तेज कर दिए हैं।

16 मई को ओआइसी की बैठक
इस बीच अरब ने इजरायल-फिलिस्तीन मुद्दे पर आर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन( ओआइसी) के विदेश मंत्रियों की 16 मई को वर्चुअल बैठक बुलाई है। इस मुस्लिम देशों के सबसे बड़े संगठन में 57 देश शामिल हैं।

इजरायली हमले में गाजा की बहुमंजली इमारत ध्वस्त
इस बीच इजरायल और फिलिस्तीन के बीच युद्ध तेज हो गया है। इजरायल ने गाजा शहर की एक ऊंची इमारत को पूरी तरह ध्वस्त कर दिया है। इस इमारत में एसोसिएट प्रेस( एपी), अल जजीरा समेत कई बड़े मीडिया के कार्यालय थे। इस इमारत को हमले से एक घंटे पहले ही खाली करा लिया गया था। इस कारण इसमें किसी के हतातहत होने की खबर नही है।

हमले का कारण स्पष्ट नहीं
बताया जा रहा है कि इस इमारत में कई बडे़ मीडिया हाउस के कार्यालाय के साथ ही आवासीय अपार्टमेंट भी थे। हवाई हमले में यह 12 मंजली इमारत देखते ही देखते ध्वस्त हो गई। इमारत गिरने के बाद चारों ओर धूल का गुबार देखा गया। यह हमला क्यों किया गया, इस बारे में कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है, लेकिन समझा जा रहा है कि इजरायल ने मीडिया द्वारा की जा रही कथित रुप से एकतरफा रिपोर्टिंग से नाराज होकर यह हमला किया है।

मीडिया ने दी जानकारी
अल जजीरा ने अपने एक ट्वीट में कहा कि इजरायल ने गाजा पट्टी में स्थित जाला टॉवर को ध्वस्त कर दिया। इसमें अल जजीरा समेत कई अंतर्राष्ट्रीय मीडिया कार्यालय थे। एपी के एक पत्रकार ने बताया कि हमले से पहले सेना ने टॉवर के मालिक को चेतावनी दी थी।

ये भी पढ़ेंः क्यों बोले डोभाल… अब समय आ गया है कि इजरायल के साथ हो जाएं!

घनी आबादी वाला शहर
बता दें कि गाजा शहर घनी आबादी वाला शहर है। यहां शरणार्थी शिविर पर एक और इजरायली हमले के कुछ घंटे बाद यह स्ट्राइक किया गया। इजरायल के इससे पहले किए गए हमले में एक ही परिवार के कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई। इनमें कई बच्चे भी शामिल थे।

खास बातें

  • इजरायल- फिलिस्तीन हमले में अब तक 159 से ज्यादा लोगों की मौत
  • मृतकों में 31 बच्चे और 20 महिलाएं शामिल
  • अब तक 900 से अधिक लोग घायल
  • इजरायल में 8 लोगों की मौत की पुष्टि
  • इजरायल के यहूदी और अरब मिश्रित आबादी वाले क्षेत्र में अर्धसैनिक बल तैनात,इन इलाकों में भी दंगा जारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here