Indian Naval Ship: मोज़ाम्बिक के मापुटो में तैनात हुआ आईएनएस सुमेधा 

आईएनएस सुमेधा विशाखापत्तनम स्थित भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े का हिस्सा है और पूर्वी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के परिचालन कमान के तहत कार्य करता है। 

1028

Indian Naval Ship: अफ्रीका में जारी विस्तारित परिचालन तैनाती (deployment) के एक भाग के रूप में, भारतीय नौसेना जहाज आईएनएस सुमेधा (INS Sumedha) 21 नवंबर 2023 को मोजाम्बिक(Mozambique) के मापुटो पहुंचा। इस पोर्ट कॉल का लक्ष्य लंबे समय से चले आ रहे राजनयिक संबंधों को सुदृढ़ बनाना, समुद्री सहयोग को मजबूत करना और दोनों नौसेनाओं के बीच अंतरपारस्परिकता को बढ़ावा देना है। यात्रा के दौरान 23-25 ​​नवंबर 2023 तक व्यावसायिक परस्पर बातचीत, क्रॉस डेक दौरे, योजना निर्माण सम्मेलन और संयुक्त ईईजेड निगरानी निर्धारित है। पोर्ट कॉल के दौरान कार्यकलापों में कमांडिंग ऑफिसर द्वारा नौसेना कमांडेंट, मोजाम्बिक नौसेना और मापुटो शहर के मेयर सहित मोज़ाम्बिक के विभिन्न गणमान्य व्यक्तियों और सरकारी अधिकारियों से शिष्टाचार बातचीत शामिल हैं।

जहाजों की विदेशों में तैनाती का कारण
मोज़ाम्बिक और भारत के बीच पारंपरिक रूप से गर्मजोशी भरे और मैत्रीपूर्ण द्विपक्षीय संबंध रहे हैं, वे लोकतंत्र, विकास और धर्मनिरपेक्षता के समान मूल्यों को साझा करते हैं। दोनों देशों के बीच कई क्षेत्रों में नियमित रूप से उच्च स्तरीय आदान-प्रदान और परस्पर बातचीत होती रही है। नियमित संयुक्त रक्षा कार्य समूह (जेडीडब्ल्यूजी) की बैठकों के माध्यम से द्विपक्षीय रक्षा सहयोग को भी आगे बढ़ाया जा रहा है। भारतीय नौसेना के ‘मित्र सेतुओं’ के निर्माण और मित्र देशों के साथ अंतरराष्ट्रीय सहयोग को सुदृढ़ बनाने के मिशन के हिस्से के रूप में भारतीय नौसेना के जहाजों को नियमित रूप से विदेशों में तैनात किया जाता है।

भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े का हिस्सा है आईएनएस सुमेधा
आईएनएस सुमेधा विशाखापत्तनम स्थित भारतीय नौसेना के पूर्वी बेड़े का हिस्सा है और पूर्वी नौसेना कमान के फ्लैग ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ के परिचालन कमान के तहत कार्य करता है। यह जहाज कई हथियार प्रणालियों, सेंसरों, अत्याधुनिक नेविगेशन और संचार प्रणालियों/इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट से सुसज्जित है। सुमेधा ने अतीत में विभिन्न बेड़ा सहायता अभियानों, तटीय और अपतटीय गश्त, महासागर निगरानी और एचएडीआर मिशन आरंभ किए हैं।

यह भी पढ़ें – Jammu: राष्ट्र विरोधी गतिविधियों में चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त, जानें किस क्षेत्र से जुड़ें हैं आरोपी

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.