एजेंट से आदेश: भाजपा विधायक के आरोप में वो पांच पुलिस अधिकारी कौन?

मुंबई के साकीनाका में घटे निर्भयाकांड के बाद भाजपा हमलावर हो गई है। इस बार महाविकास आघाडी सरकार की कार्यशैली और मुंबई पुलिस पर गंभीर आरोप लगे हैं।

भारतीय जनता पार्टी आक्रामक मुद्रा में है। एक ओर पूर्व सांसद किरिट सोमैया महाविकास आघाड़ी सरकार के 12 नेताओं की पोलखोलने का दावा कर रहे हैं तो दूसरी और अब विधायक अमित साटम ने पुलिस विभाग पर बड़ा आरोप लगाया है। उनका दावा है कि उनके पास इसके साक्ष्य भी मौजूद हैं। विधायक ने मुख्यमंत्री से मुंबई पुलिस आयुक्त को हटाने की मांग की है।

अमित साटम अंधेरी पश्चिम विधान सभा सीट से विधायक हैं। मुंबई के साकीनाका में घटे बलात्कार के प्रकरण में उन्होंने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने पुलिस विभाग में दखलंदाजी, और लूटखसोट का आरोप लगाया है।

मुंबई के साकीनाका में घटी बलात्कार और हत्या की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। जब राज्य के परिवहन मंत्री गृह विभाग में दखल देते हैं और पुलिस विभाग वाझेगिरी में मग्न है तो ऐसी घटनाएं होना स्वाभाविक है। जब कोविड-19 के नियमों को शिथिल करने के लिए पुलिस विभाग बार, रेस्टारेंट और बैंक्वेट हॉल से धन उगाही में मग्न रहेगा तो ऐसी घटनाएं होंगी ही। मुंबई की कानून व्यवस्था गिर गई है। इसके लिए मुंबई पुलिस आयुक्त हेमंत नगराले और गृह विभाग जिम्मेदार है। मेरे पास पुलिस विभाग के पांच अधिकारी एक लायजनिंग एजेंट से आदेश लेते हैं इसके सबूत भी हैं। जब आईपीएस रैंक के अधिकारी ऐसे लायजनिंग एजेंटों से आदेश लेंगे तो ऐसी घटना होना स्वाभाविक है। इन अधिकारियों पर और मुंबई पुलिस आयुक्त हेमंत नगराले पर तत्काल कार्रवाई हो ऐसी मांग मैं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री से करता हूं।
अमित साटम – भाजपा विधायक, अंधेरी पश्चिम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here