असम चुनावः दूसरे चरण में होगा पांच मंत्रियों के भाग्य का फैसला!

असम में दूसरे चरण में 26 महिलाओं सहित कुल 345 उम्मीदवार चुनाव के अखाड़े में उतरे हैं।

असम विधानभा चुनाव के दूसरे चरण में 1 अप्रैल को 39 सीटों पर मतदान कराया जा रहा है। इस चरण में पांच मंत्रियों, विधानसभा उपाध्यक्ष के साथ ही कुछ महत्वपूर्ण विपक्षी नेताओं के भाग्य का फैसला होना है।

इस चरण में 26 महिलाओं सहित कुल 345 उम्मीदवार चुनाव के अखाड़े में उतरे हैं। इसके लिए 1 अप्रैल को सुबह 7 बजे से लेकर शाम 6 बजे तक मतदान कराया जा रहा है। इसके लिए सुरक्षा का विशेष प्रबंध किया गया है। मतदाताओं के लिए कोरोना के दिशानिर्देशों का पालन करने का भी निर्देश जारी किया गया है।

भाजपा ने उतारे हैं 34 उम्मीदवार
इस चरण में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने 34 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं, जबकि उसकी सहयोगी पार्टियां असम गण परिषद (एजीपी) तथा यूनाइटेड पीपल्स पार्टी लिबरल (यूपीपीएल) ने क्रमशः 6 और 3 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं।

ये भी पढ़ेंः पश्चिम बंगाल चुनाव में इन सीटों पर भाजपा- टीएमसी में कांटे की टक्कर!

कांग्रेस के 28 उम्मीदवार
दूसरी ओर महागठबंधन में शामिल कांग्रेस 28 सीटों पर चुनाव लड़ रही है, जबकि एआईयू़डीएफ 7 और बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट (बीपीएफ) 4 सीटों पर मैदान में है। नवगठित असम जातियां परिषद (एजेपी) ने 19 सीटों पर उम्मीवार उतारे हैं। इस चरण में 25 सीटों पर राजग तथा महागठबंधन में आमने-सामने की टक्कर है, जबकि बाकी सीटों पर त्रिकोणीय संघर्ष है।

ये भी पढ़ेंः दीदी का नया दांव! छटपटाहट या पलटवार?

चुनावी अखाड़े में कई दिग्गज
भाजपा मंत्री परिमल सुक्लावैद्य का धोलाई में कांग्रेस उम्मीदवार कामाख्या प्रसाद माला से सीधा मुकाबला है। भाजपा के विधानसभा उपाध्यक्ष अमीनुल हक लस्कर का सोनाई में एआईचीएफ के करमी उद्दीन बारभुइंया से सीधी टक्कर है।
मंत्री पीजूष हजारिका का जागीरोड सीट पर कांग्रेस के स्वप्न कुमार मंडल और एजेपी के बुबुल दास के साथ त्रिकोणीय संघर्ष है। उनके मंत्रिमंडलीय सहयोगी भाबेश कलिता का रंगिया विधानसभा क्षेत्र में एजेपी के बाबुल शहरा से आमने-सामने की टक्कर है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here