Economy: भारत कब तक बनेगा तीसरी बड़ी आर्थिक शक्ति? ज्योतिरादित्य सिंधिया ने किया ये दावा

केद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश में हाईवे ,सड़क यातायात मार्ग  , एविएशन , बंदरगाहों का आधारभूत ढांचा विकसित किया है।

1326

केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया(Union Minister Jyotiraditya Scindia) ने दावा किया है कि अगले सात साल में भारत दुनिया की तीसरी बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश(India is the third largest economy in the world) बन जाएगा । उन्होंने कहा कि वर्ष 2014 में भारत दसवीं बड़ी अर्थव्यवस्था था । लेकिन अब यह विश्व की पांचवी बड़ी अर्थव्यवस्था वाला देश बन गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) के नेतृत्व में विकास का यह क्रम जारी रहेगा और जल्द ही हम बड़ी उपलब्धि हासिल करेंगे। उन्होंने कहा कि भारत वर्ष 2027 में विश्व की तीसरी बड़ी आर्थिक शक्ति बन जाएगा। केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ये दावा दिल्ली के राजीव भवन में आयोजित एक पत्रकार वार्ता में दी।

प्रधानमंत्री मोदी की सराहना
सिंधिया ने कहा कि भारत( पूर्व में भी विश्व का प्रतिनिधित्व करता रहा है। उन्होंने दावा किया कि 1820 में भारत की अर्थव्यवस्था दुनिया में सर्वश्रेष्ठ थी। अब फिर पिछले नौ साल से देश आगे बढ़ रहा है। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश केवल आर्थिक क्षेत्र में प्रगति नहीं कर रहा बल्कि उसकी सांस्कृतिक और आध्यात्मिक उन्नति भी कर रहा है।
भारत ने लड़ी है अनेक लड़ाई
केद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश में हाईवे ,सड़क यातायात मार्ग  , एविएशन . बंदरगाहों का आधारभूत ढांचा विकसित किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में सोशल डेवलपमेंट पर भी जोर दिया है, जिसमें उज्जवला योजना , शौचालय निर्माण , जनजाति वर्गो का विकास शामिल है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमने एक लड़ाई देश की स्वतंत्रता के लिए लड़ी और अब दूसरी लड़ाई देश के 140 करोड़ लोगों के साथ मिलकर आर्थिक तरक्की के लिए लड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि  वर्ष 2047 तक 4500 वंदे भारत ट्रेन (Vande Bharat Train) देश में दौड़ने लगेगी । नेट जीरो कार्बन  इमिशन करने वाला रेल मंत्रालय बन विश्व का एकमात्र देश बन जाएगा ।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.