India Debt Capital Market Summit 2023: विश्‍व आज भारत पर भरोसा करता है- गोयल, अर्थव्यवस्था को लेकर कही बड़ी बात

625
फाइल चित्र

India Debt Capital Market Summit 2023: केन्‍द्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने तीसरे भारत ऋण पूंजी बाजार शिखर सम्मेलन 2023 के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि अवसंरचना पर भारत (India) का ध्यान अर्थव्यवस्था (economy) को सशक्त बना रहा है तथा इसे और अधिक गति प्रदान कर रहा है।

पहली बार 4 ट्रिलियन का आंकड़ा छू रहा शेयर बाजार
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अवसंरचना की दिशा में सरकारी और निजी क्षेत्र दोनों से व्‍यापक स्‍तर पर निवेश (Investment) देश की ढांचागत क्षमताओं को बढ़ावा दे रहा है। उन्होंने कहा कि वित्तपोषण का प्रतिस्पर्धी स्रोत उन लोगों से निवेश आकर्षित कर रहा है जो अधिक सुरक्षा की खोज में हैं। उन्होंने कहा कि शेयर बाजार भी पहली बार 4 ट्रिलियन का आंकड़ा छू रहा है और शीर्ष पांच वैश्विक बाजारों में से एक होने के कारण भारत के पास बड़े अवसर हैं। उन्होंने बताया कि देश विश्‍व की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और इस तिमाही में 7.6 प्रतिशत की दर से सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था है। गोयल ने यह उल्‍लेख करते हुए कि भारत दुनिया के एक विश्वसनीय भागीदार और एक जीवंत लोकतंत्र के रूप में बहुत उज्ज्वल भविष्य के शिखर पर खड़ा है जहां लोग कानून के शासन को स्‍वीकार करते हैं और उसका सम्मान करते हैं, कहा, “विश्‍व आज भारत पर भरोसा करता है।”

गोयल ने कहा कि अमृत काल में हम एक विकसित भारत (developed india) का स्‍वप्‍न देखते हैं जहां हम विकसित और समृद्ध भारत की दिशा में अपनी यात्रा पर हैं। उन्होंने कहा कि भारत 2047 तक अपने 3.7 ट्रिलियन डॉलर में 30 ट्रिलियन डॉलर और जोड़ लेगा।

व्‍यापक स्‍तर पर होगा शहरीकरण
गोयल ने कहा कि एक लचीला ऋण पूंजी बाजार नवोन्‍मेषण, उद्यमिता और अवसंरचना के विकास के लिए उत्प्रेरक होगा। उन्होंने कहा कि अगले कुछ दशकों में व्‍यापक स्‍तर पर शहरीकरण होगा, जबकि श्रेणी 2 शहर भी महानगर बनने जा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों की आय बढ़ रही है, जिससे देश भर में व्‍यय करने की शक्ति बढ़ रही है। एआई, सेमीकंडक्टर, इलेक्ट्रिक वाहन जैसे भविष्य के सेक्‍टर हमारे भविष्य को शक्ति प्रदान करेंगे। हरित और टिकाऊ ऊर्जा ही भविष्‍य का रास्ता होगी और पूंजी बाजार तथा ऋण बाजार हमारी ऊर्जा को निम्न कार्बन अर्थव्यवस्था में रूपान्‍तरित करने में अपनी भूमिका निभा रहे हैं। गोयल ने कॉर्पोरेट जगत से खोने के डर के बिना भारत में निवेश करने का आग्रह किया।

यह भी पढ़ें – Gmail खातों को लेकर Google का बड़ा कदम आज से, हमेशा के लिए मिट जाएंगे ये दस्तावेज

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.