राजस्थानः .. और मान गए नाराज कांग्रेस विधायक, उदयपुर जाने को तैयार

राजस्थान की चार राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होने हैं। इसमें कांग्रेस के तीन और भाजपा के एक प्रत्याशी के साथ भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी डॉ सुभाष चंद्रा मैदान में हैं।

राज्यसभा चुनाव से पहले उदयपुर में चल रही कांग्रेस और समर्थित विधायकों की बाड़ाबंदी से दूर रहकर नाराजगी जता रहे छह विधायकों ने 4 जून देर रात सीएमआर पहुंचकर सीएम अशोक गहलोत से मुलाकात की। आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र राठौड़ इसके मुख्य सूत्रधार रहे। बताया जा रहा है कि सभी छह विधायकों की नाराजगी दूर हो गई है और वे उदयपुर के लिए रवाना हो गए हैं।

मुख्यमंत्री आवास पहुंचने से पहले ये सभी विधायक संदीप यादव के घर जुटे और बैठक की। कांग्रेस के नाराज विधायकों में बसपा से कांग्रेस में शामिल हुए संदीप यादव, राजेंद्र गुढ़ा लाखन मीणा और वाजिब अली के साथ विधायक खिलाड़ी लाल बैरवा और गिर्राज मलिंगा भी शामिल हैं। आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र राठौड़ लगातार इन नाराज विधायकों के संपर्क में थे। उन्होंने ही इनकी नाराजगी दूर कर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात करवाई।

उदयपुर कैंप में होंगे शामिल
इन विधायकों की नाराजगी दूर हो गई है और आज ये विधायक उदयपुर में कांग्रेस विधायकों के कैंप में शामिल होंगे। कांग्रेस और समर्थित विधायकों की जब राज्यसभा को लेकर उदयपुर में बाड़ाबंदी की गई थी तब ये विधायक उसमें शामिल नहीं हुए। हाल ही में सरकार से नाराजगी को लेकर इन विधायकों के अलग-अलग बयान भी सामने आए थे। संदीप यादव की मुख्यमंत्री के नाम चिट्ठी भी वायरल हुई, जिसमें सम्मान को ताक पर रखे जाने का आरोप था।

सुभाष चंद्रा के मैदान में आने से कांग्रेस परेशान
राजस्थान की चार राज्यसभा सीटों के लिए 10 जून को चुनाव होने हैं। इसमें कांग्रेस के तीन और भाजपा के एक प्रत्याशी के साथ भाजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी डॉ सुभाष चंद्रा मैदान में हैं। राज्यसभा चुनाव में तीसरी सीट के लिए उदयपुर की ताज अरावली में बाड़ाबंदी के बीच विधायकों के उदयपुर आने का सिलसिला शुरू हुआ। पिछले तीन दिन में विधायकों ने ताज अरावली में खूब मस्ती की।

ऐसे मजे कर रहे हैं विधायक
पुरुष विधायक जहां क्रिकेट, टेनिस और स्वीमिंग करते दिखाई दिए। वहीं, महिला विधायक भी होटल घूम रही हैं। महिला विधायकों ने अंताक्षरी भी खेली। कई विधायकों ने जिम में भी खूब पसीना बहाया। देर शाम महिला विधायकों ने होटल के ट्रैक पर वॉकिंग भी की। शनिवार रात तक 100 से ज्यादा विधायक उदयपुर पहुंच चुके हैं। विधायकों के लिए रात में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी रखे गए हैं।

6 जून तक सभी विधायकों के कैंप में आने का दावा
अशोक गहलोत के विश्वासपात्र नेताओं में से एक पुखराज पाराशर का कहना है कि 6 जून तक सभी विधायक उदयपुर होंगे। सरकार पूरी मजबूती से तीनों सीटें जीतेगी। चुनाव को देखते हुए रविवार से होटल में सुरक्षा व्यवस्था अधिक मजबूत कर दी गई है। होटल में प्रवेश से पहले सख्ती से पूछताछ की जा रही है। अब होटल में इंटरनेट भी बंद कर दिया गया है। सभी किस्म के वाई-फाई भी बंद कर दिए गए हैं। विधायकों पर भी अब पैनी नजर रखी जा रही है। किसी को भी बाहर जाने की अनुमति नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here