“सनातन का अर्थ है अनंत, शाश्वत, राहुल गांधी को मैं गंभीरता से नहीं लेता!” फडणवीस ने बताये कारण

फडणवीस 22 नवंबर को पुणे में बागेश्वर धाम प. धीरेंद्र शास्त्री की रामकथा में शामिल हुए। इस मौके पर दर्शकों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि अगर भारत जागेगा तो पूरी दुनिया जागेगी।

1042

राज्य के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने 22 नवंबर को सवाल पूछा कि देश की जनता और यहां तक ​​कि कांग्रेस पार्टी भी राहुल गांधी को गंभीरता से नहीं लेती तो मैं उन्हें गंभीरता से क्यों लूं?

पुणे पहुंचने पर वह पत्रकारों से बात कर रहे थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कारण इस देश के भ्रष्ट, भ्रष्टाचारी और अनैतिक नेता डरे हुए हैं। इस देश के आम लोगों से पूछें तो वे नरेंद्र मोदी को देश का रक्षक, देश का सफल नेता और गरीबों के लिए अथक प्रयास करने वाला नेता मानते हैं। राहुल गांधी को कोई गंभीरता से नहीं लेता।

लोकसभा और विधानसभा चुनाव प्रभारियों की बैठक
आज बीजेपी के लोकसभा और विधानसभा चुनाव प्रभारियों की बैठक हुई, इस बारे में जब पत्रकारों ने पूछा तो देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि बीजेपी सभी बूथों पर मजबूती चाहती है। जहां बीजेपी लड़ेगी, वहां बीजेपी के उम्मीदवारों का चुनाव होना है और बाकी जगहों पर महागठबंधन के नेताओं का चुनाव होना है। आगामी लोकसभा चुनाव बीजेपी के लिए नहीं बल्कि भारत के लिए महत्वपूर्ण है।

2024 से 2029 भारत की प्रगति में महत्वपूर्ण वर्ष होंगे। जब पत्रकारों ने उनसे पूछा कि वह पंढरपुर में कार्तिकी की पूजा के लिए क्या मांगेंगे और आषाढ़ी की पूजा के लिए कब जाएंगे, तो उन्होंने कहा कि वे 23 नवंबर को बताएंगे कि वे कार्तिकी के लिए क्या मांगेंगे और आषाढ़ी की पूजा के लिए इस साल भी जा सकते हैं।

रामकथा में हुए शामिल
इसी दौरान वे 22 नवंबर को पुणे में बागेश्वर धाम प. धीरेंद्र शास्त्री की रामकथा में शामिल हुए। इस मौके पर दर्शकों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि अगर भारत जागेगा तो पूरी दुनिया जागेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 22 जनवरी 2024 को एक इतिहास रचा जाएगा। अयोध्या में राम मंदिर का उद्घाटन होगा। जब लोग सनातन की आलोचना करते हैं तो उन्हें सनातन का मतलब समझ नहीं आता। रूढ़िवाद, जातिवाद शाश्वत नहीं है, लेकिन सनातन शाश्वत और शाश्वत है। सनातन भारत का विचार है, जो सबको जोड़ता है, जिसमें कोई ऊंच-नीच नहीं है। देवेन्द्र फडणवीस ने यह भी कहा कि प्रभुश्री राम की कथा सुनना जीवन देने वाला क्षण है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.