पीएम का दौरा गुजरात में, सियासी तूफान महाराष्ट्र में! शिवसेना ने कही ये बात

ताऊ ते चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात का दौरा किया, लेकिन तूफान निरीक्षण दौरे से पहले ही महाराष्ट्र में सियासी तूफान आ गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चक्रवात ताऊ ते प्रभावित गुजरात को 1000 करोड़ रुपए वित्तीय सहायता देने की घोषणा की है। इसके साथ ही उन्होंने सभी प्रभावित राज्यों में ताऊ ते के कारण जान गंवाने वालों के परिजनों को दो -दो लाख तथा घायलों को 50 हजार रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। पीएम की इस घोषणा से पहले ही महाराष्ट्र में राजनैतिक तूफान खड़ा हो गया है।

ताऊ ते चक्रवात से हुए नुकसान का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात का दौरा किया, लेकिन तूफान निरीक्षण दौरे से पहले ही महाराष्ट्र में सियासी तूफान तेज हो गया है। मोदी सरकार के खिलाफ यहां आलोचनाओं का दौर तेज हो गया है। मोदी के दौरे पर प्रतिक्रिया देते हुए शिवेसेना सांसद संजय राऊत ने व्यंग्यात्मक लहजे में कहा,’मोदी ने माना होगा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे किसी भी संकट का सामना करने में सक्षम हैं। इसलिए हो सकता है कि उन्होंने महाराष्ट्र की बजाय केवल गुजरात का दौरा करने का निर्णय लिया हो।’

राऊत ने कही ये बात
गुजरात में मोदी के हवाई सर्वेक्षण के बारे में पूछे जाने पर राऊत ने मीडिया से कहा, ‘महाराष्ट्र, गुजरात और गोवा चक्रवात से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, इसलिए यह समय किसी की आलोचना करने का नहीं है। लेकिन गुजरात मोदी का अपना राज्य है, इसलिए वे सिर्फ गुजरात जा रहे होंगे। महाराष्ट्र में ठाकरे सरकार किसी भी संकट का सामना करने में सक्षम है। प्रधानमंत्री मोदी को विश्वास हो गया होगा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे इस संकट से उबर जाएंगे, इसलिए हो सकता है कि वह महाराष्ट्र न आए हों। संजय राऊत ने यह भी कहा कि मोदी वहां गए होंगे क्योंकि उन्हें लगा होगा कि गुजरात में सरकार थोड़ी कमजोर है।’

ये भी पढ़ेंः नारदा स्टिंग प्रकरण में यूं फंसी ममता बनर्जी!

मोदी ने किया हवाई सर्वेक्षण
महाराष्ट्र और पड़ोसी राज्य गुजरात व गोवा भी चक्रवात से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केवल गुजरात में हुए नुकसान की समीक्षा के लिए गुजरात का हवाई सर्वेक्षण किया। भावनगर से उन्होंने वायु सेना के हेलीकॉप्टर से ऊना, दीव, जाफराबाद और महुवा का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार चक्रवात से प्रभावित सभी राज्यों के साथ मजबूती से खड़ी रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here