पीएम ने किया काशी की महिमा का गुणगान, गीता जयंती पर दिया यह संदेश

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सद्गुरु सदाफलदेव विहंगम योग संस्थान के 98वें वार्षिक समारोह को संबोधित किया। उन्होंने अपने संबोधन में गीता के संदेश को याद करते हुए कहा कि यह परम ज्ञान है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 14 दिसंबर को सद्गुरु सदाफलदेव विहंगम योग संस्थान के 98वें वार्षिक समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि काशी की ऊर्जा अक्षुण्ण तो है ही, ये नित नया विस्तार भी लेती रहती है। पीएम के वाराणसी के दौरे का यह दूसरा और अंतिम दिन था।

गीता जयंती पर दी बधाई
प्रधानमंत्री मोदी ने गीता जयंती की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आज के ही दिन कुरुक्षेत्र की युद्धभूमि में जब सेनाएं आमने सामने थीं, मानवता को योग, आध्यात्म और परमार्थ का परम ज्ञान मिला था। इस अवसर पर भगवान कृष्ण के चरणों में नमन करते हुए आप सभी को, सभी देशवासियों को गीता जयंती की हार्दिक बधाई देता हूं।

ये भी पढ़ेंः पीएम की पाठशाला में शामिल हुए भाजपा शासित प्रदेशों के सीएम! मिले ‘ये’ मंत्र

सद्गुरु सदाफलदेव जी को किया नमन
पीएम ने कहा कि मैं सद्गुरु सदाफलदेव जी को नमन करता हूं, उनकी आध्यात्मिक उपस्थिति को प्रणाम करता हूं। मैं श्री स्वतंत्रदेव जी महाराज और श्री विज्ञानदेव जी महाराज का भी आभार व्यक्त करता हूं जो इस परंपरा को जीवंत बनाए हुए हैं, नया विस्तार दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here