Article 370 पर सुप्रीम निर्णय को प्रधानमंत्री ने बताया सामूहिक संकल्प का प्रमाण

आज का फैसला सिर्फ कानूनी फैसला नहीं है, आशा की किरण है, उज्जवल भविष्य का वादा है और एक मजबूत, अधिक एकजुट भारत के निर्माण के हमारे सामूहिक संकल्प का प्रमाण है।

1350

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) ने सुप्रीम कोर्ट (supreme court) के अनुच्छेद 370 (Article 370) को हटाए जाने की वैधता बरकरार रखने के फैसले को ऐतिहासिक (historical) बताया है और कहा है कि यह जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) और लद्दाख के लोगों के लिए आशा, प्रगति और एकता की एक शानदार घोषणा है।

सुप्रीम कोर्ट ने एकता को मजबूत किया
प्रधानमंत्री ने एक्स पर ट्वीट कर कहा, “आज का फैसला सिर्फ कानूनी फैसला नहीं है, आशा की किरण है, उज्जवल भविष्य का वादा है और एक मजबूत, अधिक एकजुट भारत (united india) के निर्माण के हमारे सामूहिक संकल्प का प्रमाण है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने अपनी गहरी समझ से उस एकता को मजबूत किया है जिसे हम भारतीय होने के नाते बाकी सब से ऊपर मानते हैं और बनाए रखना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को आश्वस्त किया कि उनके सपनों को पूरा करने के लिए केन्द्र सरकार की प्रतिबद्धता अटूट है। हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि प्रगति का लाभ न केवल आप तक पहुंचे बल्कि अनुच्छेद 370 के कारण पीड़ित हमारे समाज के सबसे कमजोर और हाशिए पर रहने वाले वर्गों तक भी पहुंचे।

यह भी पढ़ें – जम्मू-कश्मीर से Article 370 के खात्मे को सुप्रीम कोर्ट ने ठहराया वैध, कहा, अस्थायी प्रावधान था अनुच्छेद 370

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.