Italy PM: इस्लाम पर पीएम मेलोनी ने दिया बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी ने कहा है कि इस्लामी संस्कृति और यूरोपीय संस्कृति असंगत हैं। यूरोप में इस्लाम के लिए कोई जगह नहीं है।

728

इटली (Italy) की प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी (Prime Minister Giorgia Meloni) ने इस्लामिक मूल्यों (Islamic Values) को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने बयान दिया है कि यूरोप (Europe) में इस्लाम के लिए कोई जगह नहीं है। उनके इस बयान (Statement) की हर तरफ चर्चा हो रही है। (Italy PM)

प्रधानमंत्री जियोर्जिया मेलोनी ने कहा है कि इस्लामी संस्कृति और यूरोपीय संस्कृति असंगत हैं। यूरोप में इस्लाम के लिए कोई जगह नहीं है। उन्होंने अतीत में इस्लामी मूल्यों का मजाक उड़ाया है। वे शरिया का पालन करने वाले लोग हैं। इनका यूरोपीय संस्कृति से कोई लेना-देना नहीं है। ऐसे में जो लोग इस्लामीकरण चाहते हैं उन्हें यूरोप से दूर रहना चाहिए। उन्हें यूरोप में रहने की ज़रूरत नहीं है।

यह भी पढ़ें- UP News: विरासत और विकास की पटरी पर आज भारत तेज गति से आगे बढ़ रहा: प्रधानमंत्री मोदी

मुसलमानों के संबंध में महत्वपूर्ण बयान
प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने अपनी हालिया इटली यात्रा के दौरान कहा था कि अवैध अप्रवासियों की बढ़ती संख्या यूरोपीय समाज को अस्थिर कर देगी। ऐसे में हमें अपने कानूनों को अपडेट करने और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बातचीत करने की जरूरत है। ताकि अवैध आप्रवासियों की समस्या और यूरोप को प्रभावित करने से बचा जा सके। सुनक के बयान के जवाब में जॉर्जिया के प्रधानमंत्री ने इस्लाम और यूरोप आने वाले मुसलमानों को लेकर ये अहम बयान दिया है।

दोनों मूल्य विरोधाभासी हैं…
मेलोनी ने कहा कि इटली में इस्लाम के सांस्कृतिक केंद्र, जहां शरिया कानून लागू है, सऊदी अरब द्वारा वित्त पोषित किया जा रहा है। यूरोप में इस्लामीकरण की जो प्रक्रिया चल रही है वह हमारी संस्कृति के मूल्यों से कोसों दूर है। ऐसे में मुसलमानों को यूरोप से दूर रहना चाहिए। हमारी संस्कृति के मूल्य और इस्लामी मूल्य दोनों विरोधाभासी हैं, इसलिए वह इस्लामी संस्कृति को मानने वालों को यूरोप से दूर रहने की सलाह देते हैं।

जॉर्जिया का बयान चर्चा में…
जॉर्जिया मेलोनी ने हाल ही में दुबई में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। वह धुर दक्षिणपंथी ब्रदर्स ऑफ इटली पार्टी की नेता हैं। इटली के पहले प्रधानमंत्री होने के अलावा, उनके पास 31 साल की उम्र में इटली के सबसे कम उम्र के मंत्री होने का रिकॉर्ड भी है। जॉर्जिया अक्सर अपने बयानों और दक्षिणपंथी प्रवृत्ति के लिए चर्चा में रही हैं। जॉर्जिया ने खुद को मुसोलिनी का उत्तराधिकारी बताया, जिसकी कई लोगों ने आलोचना की। जॉर्जिया ने भी एक बयान में कहा कि मुस्लिम इटली के लिए खतरा हैं।

देखें यह वीडियो-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.