Prime Minister मोदी को रूस का सर्वोच्च सम्मान मिलने पर भाजपा ने जताई खुशी, विपक्ष के लिए कही ये बात

भाजपा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी दक्षता से दुनिया को दिखाया कि युद्ध से परे भी समाधान निकाला जा सकता है लेकिन विपक्षी दल को हर शुभ अवसर पर नकारात्मक बातें खोजते हैं, वे इस भव्य आयोजन के बारे में नकारात्मक बातें करते हैं।

62

Prime Minister नरेन्द्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किए जाने पर भारतीय जनता पार्टी ने खुशी जाहिर करते हुए इसे 140 करोड़ देशवासियों के लिए गर्व का अवसर बताया है।

140 करोड़ देशवासियों के लिए गर्व की बात
भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि आज 140 करोड़ देशवासियों के लिए गर्व और संतुष्टि की अनुभूति का अवसर है। हमारे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द एपोस्टल’ से सम्मानित किया गया है। इस समय मोदी एकमात्र राष्ट्राध्यक्ष हैं, जिन्हें 2 बार अमेरिकी संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करने का अवसर मिला और उसके साथ ही रूस ने उन्हें अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान दिया है।

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत का बज रहा है विश्व में डंका
भाजपा मुख्यालय में प्रेसवार्ता में सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि 140 करोड़ देशवासियों के लिए यह और भी खुशी की बात है कि नरेन्द्र मोदी भारत के पहले ऐसे राष्ट्राध्यक्ष हैं, जिन्हें फ्रांस के अलावा मिस्र, भूटान, यूएई, सऊदी अरब और फिलिस्तीन के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। रूस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान यह उस प्रतिष्ठा, गरिमा और सम्मान का प्रमाण है, जो प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत को विश्व स्तर पर मिला है।

युद्ध के आलावा भी समस्या समाधान का रास्ता
इस सम्मान पर विपक्षी दलों के नकारात्मक बयान पर हमला बोलते हुए राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी दक्षता से दुनिया को दिखाया कि युद्ध से परे भी समाधान निकाला जा सकता है लेकिन विपक्षी दल को हर शुभ अवसर पर नकारात्मक बातें खोजते हैं, वे इस भव्य आयोजन के बारे में नकारात्मक बातें करते हैं। विपक्षी दल पूछते हैं कि प्रधानमंत्री यूक्रेन पर क्यों नहीं बोलते । हम सरकार में हैं, प्रधानमंत्री मोदी को अंतरराष्ट्रीय विषयों पर बोलने का अधिकार ही नहीं कर्तव्य भी है।

Bill: अब माता-पिता की देखरेख की जिम्मेदारी सिर्फ बच्चे ही नहीं, दामाद, बहू, पोता-पोती की भी; केंद्र बिल लाने को तैयार

विपक्ष पर तंज
यहां सवाल उठता है कि कांग्रेस ने अंतरराष्ट्रीय मुद्दे पर कितने प्रस्ताव अपनी कार्यकारिणी में रखे औऱ पारित किये।कांग्रेस ने अपनी सीडब्ल्यूसी की बैठक में फिलिस्तीन के पक्ष में इजराइल-हमास युद्ध के संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया था। इस पर सोनिया गांधी ने एक लेख भी लिखा और प्रियंका गांधी ने इसके बारे में ट्वीट किया ।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.