9 हजार एसटी कर्मी काम पर लौटे! इन रुटों पर बसों का परिचालन शुरू

महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम के कुल 9,705 कर्मचारियों ने राज्य के विभिन्न डिपो में काम करना शुरू कर दिया है। इनमें से 6,482 कार्यालयों में काम करने वाले कर्मचारी हैं।

भारतीय जनता पार्टी द्वारा महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम के कर्मचारियों की हड़ताल से समर्थन लेने का असर उसके दूसरे दिन से ही दिखना शुरू हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार निगम के नौ हजार कर्मचारी 25 नवंबर को काम पर लौट आए हैं और उन्होंने अपना काम शुरू कर दिया है। इस कारण राज्य के 21 बस डिपो में आशिंक रुप से बसों का परिचालन शुरू हो गया है। इस वजह से हड़ताल को जल्द ही समाप्त होने की संभावना व्यक्त की जा रही है।

बता दें कि 17 नवंबर से जारी एसटी कर्मियों की इस हड़ताल को भारतीय जनता पार्टी का पूरा समर्थन मिल रहा था, लेकिन 24 नवंबर को राज्य सरकार द्वारा उन्हें 41 प्रतिशत वेतन वृद्धि किेए जाने के बाद पार्टी ने अपना समर्थन वापस लेने की घोषणा कर दी थी। इसके बावजूद एसटी कर्मचारियों ने निगम को राज्य सरकार में विलय की मांग को लेकर जारी रखने का ऐलान किया है। लेकिन अब हड़ताली कर्मचारियों में फूट पड़ने लगी है।

कुल 9,705 कर्मचारी काम पर लौटे
परिवहन निगम के कुल 9,705 कर्मचारियों ने राज्य के विभिन्न डिपो में काम करना शुरू कर दिया है। इनमें से 6,482 कार्यालयों में काम करने वाले हैं। निगम ने बताया है कि सांगली, मिराज, कवठे-महाकाल, जाट, पेन, महाड, पालघर, चांदगढ़, कल्याण, स्वारगेट, राजापुर, देवरुख, रत्नागिरी डिपो से बसें रवाना हुई हैं।

ये भी पढ़ेंः एसटी आंदोलन हो गया खत्म? जानने के लिए पढ़ें ये खबर

वसई में एसटी सेवा शुरू
बता दें कि  पालघर जिले में भी शहरों में परिवहन व्यवस्था एसटी पर निर्भर है। इसलिए इस जिले में एसटी परिवहन शुरू करने की जरूरत है। अच्छी बात यह है कि पहली बस वसई डिपो से रवाना हुई। इससे स्थानीय लोगों को राहत मिली है।हालांकि, मुंबई के परेल डिपो में एक भी कर्मचारी काम पर नहीं लौटा है। इसलिए इस डिपो की सभी बसें डिपो में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here