स्वास्थ्य सेवाओं के प्रति संवेदनशील मोदी-योगी की सरकार, दिखाई ये बानगी

नौ वर्ष पूर्व समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के लिए किसी प्राइवेट या कारपोरेट हॉस्पिटल में उपचार कराना कठिन था। लेकिन, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना से गरीब से गरीब व्यक्ति भी सरकारी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों के साथ ही निजी व कारपोरेट हॉस्पिटलों में इलाज करा सकता है।

102

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश और प्रदेश की डबल इंजन सरकार आमजन, गरीबों व कमजोर तबके के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के प्रति संवेदनशील है। इस संवेदनशीलता का ही परिणाम है कि आज प्रदेश का हर जिला एक मेडिकल कॉलेज से जुड़ता हुआ दिखाई दे रहा है।

मुख्यमंत्री योगी ने यह बातें मंगलवार को गोरखपुर में छात्रसंघ चौराहे के पास नवनिर्मित न्यू आनंद लोक हॉस्पिटल के उद्घाटन समारोह में कहीं। हॉस्पिटल का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य का क्षेत्र काफी विस्तृत क्षेत्र है। केवल सरकार के भरोसे रहकर इस क्षेत्र में सफलता नहीं हासिल की जा सकती है। सरकार के साथ निजी क्षेत्र की सहभागिता भी जरूरी है।

उन्होंने कहा कि नौ वर्ष पूर्व समाज के अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति के लिए किसी प्राइवेट या कारपोरेट हॉस्पिटल में उपचार कराना कठिन था। लेकिन, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना से गरीब से गरीब व्यक्ति भी सरकारी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों के साथ ही निजी व कारपोरेट हॉस्पिटलों में इलाज करा सकता है।

हर जिले में होगा मेडिकल कॉलेज
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सरकार हर जिले में मेडिकल कॉलेज की स्थापना की दिशा में कदम बढ़ा चुकी है। पूर्वी उत्तर प्रदेश में ही देवरिया, सिद्धार्थनगर, बस्ती में मेडिकल कॉलेज बन चुका है। कुशीनगर में निर्माण चल रहा है। महाराजगंज में पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनने की प्रक्रिया शुरू है।

उन्होंने बताया कि 1947 से लेकर 2017 तक प्रदेश में मात्र 12 गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज थे। 2017 से 2022-23 के बीच 59 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण या तो पूरा हो चुका है या निर्माण चल रहा है। शेष बचे 16 जिलों में से 4 जिलों में पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज की स्थापना कराई जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की प्रतिबद्धता आमजन व गरीबों के प्रति है। किसी भी सभ्य समाज में शिक्षा, स्वास्थ्य व सुरक्षा का बेहतरीन माहौल होना जरूरी है। उन्होंने न्यू आनंदलोक हॉस्पिटल के आयुष्मान भारत योजना में इंपैनल्ड होने पर खुशी जताते हुए कहा कि इसका लाभ हर जरूरतमंद को मिलेगा। उन्होंने हॉस्पिटल खोलने के लिए संचालक डॉ आनंद अग्रवाल व डॉ अल्पना अग्रवाल को बधाई दी।

यह भी पढ़ें – सऊदी अरब में बैठे बन गया तृणमूल उम्मीदवार, फिर कोर्ट ने दिया सबक

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.