Maharashtra MLC election: विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी से पंकजा मुंडे समेत पांच लोगों को मिला मौका, देखें पूरी सूची

पंकजा मुंडे ने हाल ही में मराठवाड़ा के बीड निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ा था और उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

96

Maharashtra MLC election: महाराष्ट्र (Maharashtra) में विधान परिषद चुनाव (MLC election) से पहले भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) (भाजपा) ने 1 जुलाई (सोमवार) को अपने पांच उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव अरुण सिंह ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर उम्मीदवारों के नामों की घोषणा की।

इस सूची में वरिष्ठ भाजपा नेता पंकजा मुंडे का नाम भी शामिल है, जो पार्टी में एक बड़ा ओबीसी चेहरा हैं। पंकजा मुंडे ने हाल ही में मराठवाड़ा के बीड निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ा था और उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। राज्य में लड़े गए लगातार दो चुनावों में यह उनकी दूसरी हार थी।

यह भी पढ़ें- Parliament Session 2024: पीएम मोदी ने राहुल गांधी को लगाई फटकार, प्रधानमंत्री ने कहा- हिंदू समाज को हिंसक कहना गंभीर बात

यहां भाजपा के एमएलसी उम्मीदवारों की पूरी सूची दी गई है:

  1. पंकजा मुंडे
  2. योगेश तिलेकर
  3. डॉ. परिणय फुके
  4. अमित गोरखे
  5. सदाभाऊ खोत

यह भी पढ़ें- Indian Army: लेफ्टिनेंट जनरल मनजिंदर सिंह ने दक्षिण पश्चिमी कमांड की संभाली, जानिये कैसा रहा है उनका करियर

12 जुलाई को मतदान
महाराष्ट्र में एमएलसी चुनाव 12 जुलाई को होने हैं। राज्य के उच्च सदन में 11 सीटें हैं जिन पर मौजूदा एमएलसी का छह साल का कार्यकाल समाप्त हो रहा है और इसलिए सीटों को फिर से चुनाव के जरिए भरा जाना है। इन सीटों पर ये 11 एमएलसी मनीषा कायंदे (शिवसेना), विजय गिरकर (भाजपा), निलय नाइक (भाजपा), रमेश पाटिल (भाजपा), डॉ. वजाहत मिर्जा (कांग्रेस), डॉ. प्रदन्या सातव (कांग्रेस), अनिल परब (शिवसेना – यूबीटी), रामराव पाटिल (भाजपा), अब्दुल्ला खान दुर्रानी (एनसीपी), महादेव जानकर (राष्ट्रीय समाज पार्टी) और जयंत पाटिल (पीजेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी ऑफ इंडिया) हैं। 12 जुलाई को सभी 11 सीटों पर मतदान के बाद उसी दिन शाम को नतीजे घोषित किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें- HPCA Stadium: धर्मशाला का क्रिकेट चमत्कारिक प्राकृतिक सौंदर्य जानने के लिए पढ़ें

विधानसभा का गणित
विधान परिषद में मौजूदा पार्टी संख्या पर नजर डालें तो बीजेपी के पास 103 विधायक हैं। जबकि महागठबंधन में बीजेपी की सहयोगी शिवसेना के पास 37 विधायक और एनसीपी के अजित पवार के पास 39 विधायक हैं। इसके अलावा 9 अन्य छोटी पार्टियों और 13 निर्दलीय समेत 201 विधायकों का समर्थन महागठबंधन के पास है। जबकि महाविकास अघाड़ी में कांग्रेस के पास 37, ठाकरे ग्रुप के पास 15 और शरद पवार ग्रुप के पास 13 तथा शेकाप और निर्दलीय के पास 67-67 सीटें हैं। इसलिए मौजूदा गणित के मुताबिक विधान परिषद चुनाव में महायुति के 9 और महाविकास अघाड़ी के 2 विधायक चुने जा सकते हैं। लेकिन अगर कोई अतिरिक्त उम्मीदवार मैदान में उतरता है तो ये चुनाव रंगीन हो सकता है।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.