महाराष्ट्र में शुरू हो गई मंत्रियों की गिरफ्तारी… पवार का करीबी हो गया अंदर

राज्य में दागी मंत्रियों पर कार्रवाई न होने की कहानी अब पुरानी हो गई। महाविकास आघाड़ी सरकार के दबंग मंत्री की गिरफ्तारी के साथ यह सिलसिला शुरू हो गया है। पिटाई के एक प्रकरण में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के दबंग मंत्री जितेंद्र आव्हाड को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इसी के साथ अब अगला कौन सा नेता गिरफ्तार होता है, इस पर उत्सुकता बन गई है।

जितेंद्र आव्हाड को सिविल इंजीनियर अनंत करमुसे की पिटाई के प्रकरण में ठाणे पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसके बाद मंत्री को न्यायालय में पेश किया गया, जहां 10,000 हजार रुपए के निजी मुचलके पर छोड़ा दिया गया। लेकिन इस गिरफ्तारी के साथ आरोपित मंत्रियों के अच्छे दिन लद गए यह मानने में कोई संदेह भी नहीं होना चाहिए।

ये भी पढ़ें – फिर होगी सर्जिकल स्ट्राइक! पढ़ें गृहमंत्री की वो चेतावनी

ऐसा है मामला
अप्रैल 2020 में एक अनंत करमुसे नामक एक शख्स ने जितेंद्र आव्हाड, उनके अंगरक्षकों पर पिटाई का आरोप लगाया था। इस प्रकरण में जितेंद्र आव्हाड की सुरक्षा में तैनात तीन पुलिसकर्मियों की इसके पहले गिरफ्तारी हो चुकी है। इन सभी पुलिस कर्मियों को जमानत भी मिल चुकी है। यह प्रकरण फेसबुक पर जितेंद्र आव्हाड के विरुद्ध अशोभनीय टिप्पणियों का है। पीड़ित का आरोप है कि, इसके बाद जितेंद्र आव्हाड के लोगों ने उसे बंगले पर ले जाकर निर्ममता से पीटा। न्याय मांगने के लिए पीड़ित अनंत करमुसे ने उच्च न्यायालय तक गुहार लगाई थी। जिसके बाद अब मंत्री पर कार्रवाई हुई है।

इन नेताओं पर भी हैं आरोप
राज्य में दागी मंत्रियों या नेताओं की सूची बहुत लंबी है। शिवसेना से मंत्री अनिल परब का नाम बहुत सुर्खियों में रहा है। इसके अलावा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टीके नेता और पूर्व गृहमंत्री अनिल देशमुख भूमिगत चल रहे हैं। शिवसेना के नेता संजय राठोड़ के खिलाफ भी जांच जारी है। उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को लेकर भी छापामारी चल रही है। इसके अलावा शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक की जांच चल रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here