Lok Sabha Elections 2024: वायनाड में राहुल गांधी ने मिलाया आतंकी संगठन से हाथ? जानिये, स्मृति ईरानी ने लगाया क्या आरोप

अमेठी और रायबरेली में अब तक प्रत्याशी न उतरना कांग्रेस की अंतर्कलह दिखाई पड़ रही है। उसमें एक खेमा ऐसा है जो यह चाहता है कि राहुल गांधी को नेतृत्व से मुक्त किया जाए। ए

113

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय जनता पार्टी(Bharatiya Janata Party) की प्रत्याशी एवं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी(Union Minister Smriti Irani) 8 अप्रैल को अपने दौरे पर अमेठी लोकसभा क्षेत्र(Amethi Lok Sabha constituency) में कहा कि मुझे यह जानकारी प्राप्त हुई है कि वायनाड में चुनाव लड़ने के लिए राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने आतंकवादी संगठन पीएफआई(terrorist organization pfi) का समर्थन लिया है। पीएफआई के संदर्भ में जब आप चार्जशीट(charge sheet) पढ़ेंगे तो आप जानेंगे कि पीएफआई के आतंकी संगठन ने हर जिले में कितने हिंदुओ (Hindus)को मारना है, उसकी लिस्ट बनाई है। जो हिंदुओं को मारने की लिस्ट बना रहे हैं तो राहुल गांधी अमेठी की जनता को यह बतलाएं कि ऐसे संगठन के सहयोग से आप वायनाड का चुनाव क्यों लड़ रहे हैं?

राहुल गांधी ने बदल दिया अपना परिवार
स्मृति ईरानी ने कहा,”मैं कुछ दिन पहले वायनाड में थी, वहां जाकर यह जानकारी प्राप्त हुई कि राहुल गांधी ने वायनाड को अपना परिवार घोषित किया। यह सुना जाता था कि लोग रंग बदलते हैं। पहली बार देखा है कि व्यक्ति अपना परिवार भी बदलता है। कल कांग्रेस के एक नेता ने वायनाड में यह घोषणा की कि राहुल गांधी ने वायनाड इसलिए चुना क्योंकि राहुल गांधी का कहना है कि वायनाड के लोग ज्यादा वफादार हैं तो ऐसे में अमेठी की वफ़ा का क्या? जिन्होंने 15 साल ऐसे सांसद को ढोया, जिसने अमेठी के लिए कुछ नहीं किया। हम सब जानते हैं कि 15 साल में से 10 साल सोनिया जी की सरकार केंद्र में थी, सपा की सरकार प्रदेश में थी तब राहुल गांधी ने अमेठी के लिए कुछ नहीं किया। अब तो पुनः मोदी की सरकार बन रही है और प्रदेश में योगी की सरकार है, तब राहुल गांधी क्या करेंगे?”

Lok Sabha Elections 2024: प्रधानमंत्री मोदी ने भ्रष्टाचारियों को दी यह चेतावनी

 सामने आ रही है सामने कांग्रेस की अंतर्कलहल
अमेठी और रायबरेली में अब तक प्रत्याशी न उतरना कांग्रेस की अंतर्कलह दिखाई पड़ रही है। उसमें एक खेमा ऐसा है जो यह चाहता है कि राहुल गांधी को नेतृत्व से मुक्त किया जाए। एक महिला नेत्री को कांग्रेस की कमान दी जाए। मैं उस खेमे को आश्वस्त करना चाहती हूं कि आप पुनः अमेठी में राहुल गांधी को हारते देखेंगे। आप अपना दावा कांग्रेस के नेतृत्व के लिए कर सकते हैं। अमेठी अपने सम्मान के लिए लड़ाई लड़ेगा। राहुल गांधी के खिलाफ अमेठी अपने संरक्षण की लड़ाई लड़ेगा । राहुल गांधी के खिलाफ जिसने अमेठी को त्याग दिया और त्यागने के बाद भी बार-बार अपमानित किया। जिस अमेठी में नरेंद्र मोदी ने विकास किया, अमेठी उस नरेंद्र मोदी को आशीर्वाद देगी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.