Lok Sabha Elections के दो चरणों के बाद एनडीए का क्या है हाल? जानिये पीएम मोदी ने क्या कहा

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दो गोल करने के बाद अब तीसरे गोल की जिम्मेदारी कोल्हापुर पर आ गई है। कोल्हापुरकर ऐसा गोल करेंगे कि कांग्रेस मोर्चे का माथा ठनक जाएगा।

443

Lok Sabha Elections: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 अप्रैल को कोल्हापुर में कहा कि फुटबाल की भाषा में कहें तो लोकसभा चुनाव के दो चरणों के बाद भाजपा नीत एनडीए गठबंधन 2-0 से आगे है। इस तरह कांग्रेस और उसका गठबंधन शून्य पर है और हमने चुनाव में बढ़त बना ली है।

जगत भारी कोल्हापुरीः पीएम
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 27 अप्रैल को कोल्हापुर जिले में भाजपा नीत एनडीए गठबंधन के उम्मीदवार धैर्यशील माने और संजय मांडलिक के समर्थन में आयोजित प्रचार सभा को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री मोदी ने ‘जगत भारी कोल्हापुरी’ कहकर अपने संबोधन की शुरुआत की। उन्होंने कहा, ”मुझे पता चला कि कोल्हापुर में फुटबॉल मशहूर है। यानी फुटबॉल की भाषा में कहें तो पहले दो चरण के चुनाव के बाद एनडीए और बीजेपी 2-0 से आगे हैं। इसलिए कांग्रेस और भारत का गठबंधन शून्य पर है।”

कांग्रेस पर हमला
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दो गोल करने के बाद अब तीसरे गोल की जिम्मेदारी कोल्हापुर पर आ गई है। कोल्हापुरकर ऐसा गोल करेंगे कि कांग्रेस मोर्चे का माथा ठनक जाएगा। दूसरी ओर, इंडी अघाड़ी ने राष्ट्र-विरोधी और नफरत की राजनीति के दो आत्म-लक्ष्य बनाए हैं। इससे यह तय है कि मोदी सरकार दोबारा आएगी।” नरेंद्र मोदी ने कहा कि “कांग्रेस और उनके समर्थक नेता पहले दो चरणों के बाद भ्रमित हैं। अब वे ध्रुवीकरण की भाषा बोलने लगे हैं। अगर देश में कांग्रेस के नेतृत्व वाली सरकार आती है तो वे जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को फिर से लागू करने की सोच रहे हैं। वे सीएए कानून को भी रद्द कराना चाहते हैं। लेकिन मुझे उनसे एक बात कहनी है। “क्या वे उस सरकार के दरवाजे तक भी पहुंच सकते हैं, जिसके तीन अंकों की संख्या में सांसदों के चुने जाने की उम्मीद है?”

Lok Sabha Elections-2024: अब तक 932 करोड़ से अधिक मूल्य की अवैध शराब, नकदी एवं अन्य सामग्री जब्त

दक्षिण भारत को बांटने की बात
प्रधानमंत्री ने कहा कि इंडी अघाड़ी के लोग अब देश पर गुस्सा निकाल रहे हैं। कर्नाटक और तमिलनाडु में उनके नेता दक्षिण भारत को बांटने की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं। लेकिन क्या यह संभव है? छत्रपति शिवाजी महाराज के समय में जिस धरती पर ‘अहद पेशावर, ताहद तंजावुर, हिंदवी स्वराज्य’ का उद्घोष किया गया था, क्या वह इंडी अघाड़ी के मंसूबों को पूरा करेगी? प्रधानमंत्री मोदी ने मतदाताओं से विभाजनकारी भाषा बोलने वालों को करारा जवाब देने का आग्रह किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदाताओं से भाजपा नीत एनडीए गठबंधन के उम्मीदवारों को भारी बहुमत से जिताने की अपील की है।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.