Narendra Modi Oath: चिराग पासवान सहित अन्य को मंत्री पद के लिए आया फ़ोन, देखें पूरी लिस्ट

सूत्रों के अनुसार, नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जनता दल (यूनाइटेड) और चंद्रबाबू नायडू के नेतृत्व वाली तेलुगु देशम पार्टी के कई नेताओं को मंत्री पद के लिए बुलाया गया है।

123

Narendra Modi Oath: राष्ट्रपति भवन में आयोजित होने वाले मोदी सरकार 3.0 के शपथ ग्रहण समारोह (SWEARING-IN CEREMONY) से पहले एनडीए (NDA) के सहयोगी दलों के बीच मंत्री पदों के बंटवारे को लेकर उत्सुकता बढ़ गई है। जहां अमित शाह और राजनाथ सिंह जैसे नेताओं को कैबिनेट में शीर्ष मंत्री पदों के लिए निश्चित उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा है, वहीं एनडीए खेमे से कई अन्य नेताओं के नाम भी चर्चा में हैं।

सूत्रों के अनुसार, नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जनता दल (यूनाइटेड) और चंद्रबाबू नायडू के नेतृत्व वाली तेलुगु देशम पार्टी के कई नेताओं को मंत्री पद के लिए बुलाया गया है। सूत्रों ने बताया कि अब तक जेडी (यू) सांसद रामनाथ ठाकुर, जेडीएस सांसद एचडी कुमारस्वामी और टीडीपी सांसद डॉ. पी चंद्रशेखर और राम मोहन नायडू को मंत्री पद के लिए बुलाया गया है।

यह भी पढ़ें- Narendra Modi Oath: शपथ ग्रहण समारोह से पहले पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

इनको भी गया फ़ोन
इसके अलावा, सूत्रों ने बताया कि एलजेपी (रामविलास) प्रमुख चिराग पासवान, हम (हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा) सुप्रीमो जीतन राम मांझी, अपना दल (एस) की अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल और आरएलडी के जयन चौधरी को भी मोदी 3.0 सरकार में मंत्री पद की शपथ दिलाई जा सकती है। इसके अलावा, शिवराज सिंह चौहान, बसवराज बोम्मई, मनोहर लाल खट्टर और सर्बानंद सोनोवाल सहित लोकसभा चुनाव जीतने वाले पूर्व मुख्यमंत्रियों के नाम भी सरकार में शामिल होने के प्रबल दावेदार बताए जा रहे हैं। हालांकि, अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें- Narendra Modi Oath: भाजपा चंद्रबाबू और नीतीश बाबू के पार्टियों को मंत्रिमंडल में कैसे करेगी शामिल? जानने के लिए पढ़ें

किरेन रिजिजू मंत्री पद पर वापस
पूर्वोत्तर से भाजपा के नेता सर्बानंद सोनोवाल और किरेन रिजिजू मंत्री पद पर वापस आ सकते हैं, साथ ही कुछ और नामों पर भी चर्चा हो रही है। दो कार्यकाल पूर्ण बहुमत के बाद, भाजपा इस बार 240 सीटों पर आकर जादुई आंकड़े से चूक गई। इसने चंद्रबाबू नायडू और नीतीश कुमार को किंगमेकर की स्थिति में पहुंचा दिया है। दोनों ही गठबंधन के दौर के दिग्गज हैं और कठिन सौदेबाजी करने में माहिर हैं, और भाजपा की सीटों की संख्या ने उनकी स्थिति को मजबूत किया है।

यह भी पढ़ें- Narendra Modi oath: भारत के ‘पड़ोसी पहले’ अभियान के बीच नरेंद्र मोदी आज लेंगे शपथ, यहां जाने 10 बातें

नितिन गडकरी भी अपने पद पर वापस
हालांकि, भाजपा सूत्रों ने पहले एनडीटीवी को बताया था कि वे सुरक्षा पर कैबिनेट समिति में चार महत्वपूर्ण विभागों – गृह, रक्षा, वित्त और विदेश मामलों – को नहीं छोड़ेंगे। साथ ही, मोदी 1.0 और मोदी 2.0 में सड़क संपर्क के विस्तार ने बहुत प्रशंसा अर्जित की। और इसके पीछे के व्यक्ति, नितिन गडकरी, अपने पद को बरकरार रखने की संभावना है। 16 सीटें जीतने वाली टीडीपी और 12 सीटें जीतने वाली जेडीयू ने महत्वपूर्ण केंद्रीय भूमिकाएं मांगी हैं। प्रधानमंत्री मोदी की नई टीम की घोषणा से पता चलेगा कि ऐसा हुआ है या नहीं।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.