Lok Sabha Elections: बंगाल को बांग्लादेश बनाना चाहती हैं ममता और अखिलेश यूपी को…! प्रधानमंत्री मोदी ने साधा टीएमसी और सपा पर निशाना

यूपी के भदोही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी भाषा में किया। उन्होंने भोजपुरी भाषा में सबको प्रणाम किया। जनसमूह से उन्होंने कहा कि हम प्रणाम करत बानी। अ

366

Lok Sabha Elections: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Prime Minister Narendra Modi) 17 मई को भदोही के ऊंज में एक चुनावी जनसभा(An election public meeting in the heat of Bhadohi) को सम्बोधित करते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी(West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee) पर सीधा हमला बोला। मोदी ने ममता को आरोपित करते हुए कहा कि ममता बंगाल में हिन्दुओं की हत्या(killing of hindus in bengal) करवाती हैं। उनके लोग हिन्दुओं को गंगा में डूबो कर मारने की धमकी देते हैं। दीदी बंगाल को बांग्लादेश बनाना चाहती हैं। वहां दलित और महिलाओं का सरेआम उत्पीड़न(Public harassment of Dalits and women) होता है। प्रधानमंत्री ने इस दौरान अखिलेश यादव और राहुल गांधी पर भी तीखा सियासी हमला(Sharp political attack on Akhilesh Yadav and Rahul Gandhi also) बोला।

निशाने पर ममता और सपा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तकरीबन 30 मिनट से अधिक के अपने सम्बोधन में ममता बनर्जी, कांग्रेस और समाजवादी पार्टी को निशाने पर रखा। मोदी ने कहा कि समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश को पश्चिम बंगाल बनाना चाहती हैं। क्योंकि ममता बनर्जी और अखिलेश यादव की विचारधारा एक है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल में हुई मनीष शुक्ला की हत्या पर भी सवाल उठाया। मनीष शुक्ला भदोही से ही हैं और भाजपा की राजनीति से जुड़े थे। उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में हिंदुओं की हत्या की जा रही है। समाजवादी पार्टी भी उत्तर प्रदेश में आतंकवादियों को खुली छूट देती थी। उनके लिए प्रोटोकॉल जारी होता था और अखिलेश यादव सिमी पर मेहरबान थे।

दोनों की राजनीतिक विचारधाराएं समान
अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यूपी वाली बुआ बबुआ की चाल समझ गई, ऐसी हालत में उन्हें पश्चिम बंगाल से नई बुआ को लाना पड़ा। बबुआ को अपनी नई बुआ से यह सवाल करना चाहिए कि पश्चिम बंगाल में उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को गालियां देकर क्यों भगा दिया जाता है। क्योंकि समाजवादी पार्टी और ममता बनर्जी तुष्टिकरण की राजनीति करती हैं। इसलिए दोनों की राजनीतिक विचारधाराएं समान है। बबुआ उत्तर प्रदेश को पश्चिम बंगाल बनाना चाहते हैं।

Rajasthan: 12 जिलों में चोरी करने वाले तीन चोर गिरफ्तार, जानिये कैसा था मॉडस ऑपरेंडी

बदल गईं हैं स्थितियां
प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर भाजपा सरकार न होती तो अयोध्या में श्रीराम मंदिर, बाबा काशी विश्वनाथ और विंध्याचल कॉरिडोर का निर्माण नहीं होता। यह लोग किसी भी कीमत पर राम मंदिर का निर्माण नहीं होने देते। आज स्थितियां बदल गई है लेकिन कभी रामलाल को टेंट में देखकर बहुत तकलीफ होती थी। ऐसे लोग भगवान राम को काल्पनिक बताते हैं। कांग्रेस के शहजादे का बस चले तो वे राममंदिर में ताला लगाना चाहते हैं। भाजपा ने उत्तर प्रदेश की छवि को बदला है। हम ”वन जिला वन प्रोडक्ट” की बात करते हैं जबकि समाजवादी पार्टी ”वन जिला वन माफिया” की बात करती है। यूपी में पहले माफियाओं का राज था।

इंडी गठबंधन और भाजपा के बीच सीधी टक्कर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण से यह साबित हो गया कि यहां सीधी लड़ाई इंडी गठबंधन और भाजपा के मध्य है। उन्होंने राहुल गाँधी पर कम लेकिन ममता और अखिलेश यादव पर सीधा हमला बोला। प्रधानमंत्री ने मायावती पर कोई हमला नहीं बोला। मोदी मायावती पर काफी नरम दिखे और उनकी चर्चा भी नहीं किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि भदोही की चर्चा पूरे प्रदेश में हो रही है कि टीएमसी भदोही में कहां से आ गई। इसका कारण यह है कि समाजवादी पार्टी मैदान छोड़कर भाग गई है। उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का कोई वजूद नहीं बचा है। भदोही में कांग्रेस और सपा की जमानत बचना मुश्किल हो गई थी, जिसकी वजह से बबुआ ने पश्चिम बंगाल से नई बुआ को लाकर उत्तर प्रदेश में नया सियासी प्रयोग किया है। आप लोग इस प्रयोग को कभी सफल होने मत देना।

बंगाल में हिंदुओं के साथ अत्याचार
पश्चिम बंगाल में टीएमसी कैसी राजनीति कर रही है क्या आप लोग उससे परिचित नहीं है। वहां हिंदुओं की कैसी दशा है, पूरा देश जानता है। मोदी ने मामता सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि हिन्दुओं की हत्या की जा रही है। रामनवमी पर प्रतिबंध लगाया गया। राम मंदिर को अपवित्र बताया गया है। जबकि पश्चिम बंगाल में बांग्लादेशियों को खुलेआम संरक्षण दिया जा रहा है। यह सब वोट बैंक और तुष्टिकरण की राजनीति है। आप लोग ऐसी राजनीति से तौबा करना।

अब माफिया-गुंडे जेल में
उत्तर प्रदेश की छवि योगी सरकार ने बदल दिया है। माफिया और गुंडे अब यहां जेल में है। बहन बेटियों को कोई असुरक्षा नहीं है। प्रदेश की जनता गुंडों माफियाओं से नहीं डरती है। भाजपा ने उत्तर प्रदेश की छवि पूरी तरह से बदल दिया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले यहां छह एक्सप्रेस-वे थे अब पांच और नए एक्सेस-वे का निर्माण हो रहा है। सिक्स लेन से बनारस और हंडिया को जोड़ दिया गया है। मछलीशहर से बनारस को जोड़ा जा रहा है। साल 2017 में केवल यूपी में सात एयरपोर्ट थे जबकि अब इसकी संख्या 17 हो गई है। तीन और नए एयरपोर्ट बन रहे हैं। भदोही के कालीन की चर्चा करते हुए कहा कि देश का नया संसद भवन बहुत ही खूबसूरत और भव्य बना है। नई संसद भवन में भदोही की कालीन बिछाई गई है यह हमारे लिए गौरव की बात है।

जल जीवन मिशन का मिल रहा है लाभ
प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार ने जल जीवन मिशन के तहत 14 करोड़ लोगों तक पानी पहुंचा है। गरीबों के लिए चार करोड़ घर बनाए गए हैं। नई सरकार में हम तीन करोड़ घरों की गारंटी गरीब भाई बहनों को देते हैं। देश में सामान्य जीवन यापन करने वाली महिलाओं को हम लखपति बनाएंगे। 70 साल के बुजुर्गों का मुफ्त इलाज किया जाएगा। उन्होंने अपनी सरकार की अन्य उपलब्धियां गिनाई। इस दौरान प्रधानमंत्री ने कहा कि आप लोग 25 को कमल का बटन दबाकर डॉक्टर विनोद बिन्द को यहां से सांसद बनाकर भेजें। यह वोट हमारे खाते में जाएगा। इस दौरान उत्तर प्रदेश कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक ने प्रधानमंत्री को स्मृति भेंट किया। भाजपा जिलाध्यक्ष दीपक मिश्रा ने अंगवस्त्र भेंट किया। जबकि भाजपा उम्मीदवार डॉ विनोद बिंद ने प्रधानमंत्री का स्वागत किया।

मैं काशी वाला हूं और भदोही मेरा घर है: मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत भोजपुरी भाषा में किया। उन्होंने भोजपुरी भाषा में सबको प्रणाम किया। जनसमूह से उन्होंने कहा कि हम प्रणाम करत बानी। अपने सम्बोधन की शुरुआत उन्होंने मां विंध्यवासिनी हर हर महादेव की जय घोष से किया। इस दौरान उन्होंने भदोही की सियासी नब्ज को पकड़ते हुए कहा कि यह मेरा सौभाग्य है की सीता नवमी को हम यहां आए हैं। भदोही मां सीता की पवित्र भूमि है। इस दौरान उन्होंने भदोही जनपद के प्रसिद्ध शिव मंदिर बाबा हरिहरनाथ और सेमराधनाथ का उल्लेख करते हुए कहा कि मैं इस पवित्र भूमि को प्रणाम करता हूं। उन्होंने कई बार माँ विंध्यवासिनी का अपने भाषण में उल्लेख किया।

डॉ. विनोद बिंद को दिल्ली भेजने की अपील
प्रधानमंत्री इमोशनल कार्ड खेलते हुए कहा ”मैं काशी वाला हूं काशी वालों के लिए भदोही अपना घर है”। मैं आप लोगों से कुछ भी ना मांगू लेकिन मैं जानता हूं आप लोग मेरी भावना को समझेंगे और यहां से भारी बहुमत देकर डॉ विनोद बिंद को दिल्ली भेजेंगे। उन्होंने कहा मैं आप लोगों से कुछ नहीं सिर्फ आशीर्वाद मांगने आया हूं। इस दौरान 30 मिनट से अधिक के अपने भाषण में प्रधानमंत्री के चेहरे पर चुनावी थकावट साफ दिख रही थी। वे बेहद थके दिख रहे थे। लेकिन भीड़ से मोदी-मोदी के नारे गूंज रहे थे।”

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.