Lok Sabha Elections 2024: प्रधानमंत्री ने ”अंबानी-अडानी” का नाम लेकर विपक्ष पर साधा निशाना, बोले- ‘ अंबानी, अडानी से कितना पैसा …’

प्रधानमंत्री का जवाबी हमला महत्वपूर्ण है क्योंकि राहुल गांधी ने बार-बार नरेंद्र मोदी सरकार पर शीर्ष उद्योगपतियों का पक्ष लेने का आरोप लगाया है।

405

Lok Sabha Elections 2024: राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर तीखा हमला बोलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने 8 मई (आज) सवाल किया कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) की घोषणा के बाद से कांग्रेस (Congress) नेता अपने ”अंबानी-अडानी” (Ambani-Adani) हमले पर चुप क्यों हो गए हैं।

प्रधानमंत्री का जवाबी हमला महत्वपूर्ण है क्योंकि राहुल गांधी ने बार-बार नरेंद्र मोदी सरकार पर शीर्ष उद्योगपतियों का पक्ष लेने का आरोप लगाया है। कांग्रेस नेता ने यह भी कहा है कि जहां भाजपा सरकार ने 22 भारतीयों को “अरबपति” बनाया है, वहीं कांग्रेस का लक्ष्य इन चुनावों में सत्ता में आने पर करोड़ों लोगों को “लखपति” बनाना है।

यह भी पढ़ें- Sam Pitroda: सैम पित्रोदा के फिर बिगड़े बोल, दक्षिण भारतीय लोगों के लिए कह दी ऐसी बात

अंबानी, अडानी से कितना पैसा लिया है?
प्रधानमंत्री ने तेलंगाना में एक रैली में कहा, “पांच साल तक कांग्रेस के शहजादे एक ही राग अलापते रहे। जब उनका राफेल मुद्दा शांत हो गया तो उन्होंने नया राग छेड़ दिया। पांच उद्योगपति, पांच उद्योगपति, पांच उद्योगपति। धीरे-धीरे उन्होंने अंबानी-अडानी कहना शुरू कर दिया। लेकिन जब से चुनाव की घोषणा हुई है। उन्होंने अंबानी और अडानी को गाली देना बंद कर दिया। आज मैं तेलंगाना की धरती से पूछना चाहता हूं कि उन्होंने अंबानी, अडानी से कितना पैसा लिया है? क्या आपने रातों-रात अंबानी और अडानी को गाली देना बंद कर दिया? कुछ काला है (कुछ गड़बड़ है)। आपने पांच साल तक उनके साथ दुर्व्यवहार किया और फिर यह रातोरात बंद हो गया?”

यह भी पढ़ें- IPL 2024: अंपायरों के साथ तीखी बहस की संजू सैमसन को चुकानी पड़ी कीमत, BCCI ने की कड़ी कार्रवाई

कई समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर
प्रधानमंत्री के जवाब का स्थान भी महत्वपूर्ण है। कांग्रेस शासित राज्य तेलंगाना ने हाल ही में अदानी समूह के साथ विभिन्न क्षेत्रों में कुल 12,400 करोड़ रुपये के निवेश के लिए कई समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए हैं। भाजपा ने धन सृजनकर्ताओं और शीर्ष उद्योगपतियों पर राहुल गांधी के बार-बार किए जा रहे मौखिक हमलों को मुद्दा बनाया है। दरअसल, हाल ही में बीजेपी में शामिल हुए कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता गौरव वल्लभ ने कहा है कि पार्टी नेतृत्व ने उन्हें अरबपति गौतम अडानी के खिलाफ बोलने के लिए मजबूर किया।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community

Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.