Lok Sabha Elections 2024: ममता बनर्जी के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंची भाजपा, जानें पूरा प्रकरण

बीजेपी नेता का दावा है कि ममता बनर्जी ने सुकांत मजूमदार और सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ 'गद्दार' और 'कुलंगार' जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया।

85

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) (बीजेपी) नेता शिशिर बाजोरिया (Shishir Bajoria) ने पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के खिलाफ आदर्श आचार संहिता (Model Code of Conduct) के उल्लंघन की शिकायत मुख्य निर्वाचन अधिकारी से की है। बाजोरिया के अनुसार, टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने 6 मार्च को बालुरघाट में एक सार्वजनिक सभा के दौरान पश्चिम बंगाल भाजपा प्रमुख सुकांत मजूमदार और राज्य भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया।

बीजेपी नेता का दावा है कि ममता बनर्जी ने सुकांत मजूमदार और सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ ‘गद्दार’ और ‘कुलंगार’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया। नेता का दावा है कि यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है और पश्चिम बंगाल के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के हस्तक्षेप की मांग करते हैं, खासकर राज्य में आगामी चुनाव के मद्देनजर।

यह भी पढ़ें- Israel–Hezbollah Conflict: इजराइल ने किया हिजबुल्ला के कई ठिकानों पर हमला, अब तक हिजबुल्ला के 270 लड़ाके ढेर

ममता पर आरोप
बाजोरिया ने सीईसी को लिखे अपने पत्र में कहा, “06 मार्च, 2024 को, तृणमूल सुप्रीमो ममता बनर्जी ने बालुरघाट में एक सार्वजनिक बैठक के दौरान, भारतीय जनता पार्टी, पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार और सुवेंदु अधिकारी के खिलाफ भी अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया। पश्चिम बंगाल राज्य में विपक्ष के नेता ने “गद्दार” और “कुलंगार” जैसे शब्दों का इस्तेमाल करते हुए 2024 में आगामी लोकसभा चुनावों की पूर्व संध्या पर बड़े पैमाने पर जनता के सामने जानबूझकर ऐसी अपमानजनक भाषाएं बोलीं।” बाजोरिया ने पात्र में आग्रह किया की, “पश्चिम बंगाल के सीईओ से यह सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का अनुरोध किया है कि टीएमसी की अध्यक्ष ममता बनर्जी और उस राजनीतिक दल के अन्य सदस्यों और/या कार्यकर्ताओं को किसी भी भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं के खिलाफ अपमानजनक भाषा बोलने और/या उपयोग करने से रोका जाए।” एमसीसी के दिशानिर्देशों का अनुपालन।”

यह भी पढ़ें- Uttar Pradesh: गोरखपुर से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार को आया कार्डियक अरेस्ट, अस्पताल में कराया गया भर्ती

पिछले चुनाव का हिसाब
चुनाव आयोग द्वारा लोकसभा चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के बाद 16 मार्च को आदर्श आचार संहिता लागू हो गई। बंगाल में लोकसभा के लिए मतदान 19 अप्रैल से शुरू होकर सभी 7 चरणों में होंगे। वोटों की गिनती 4 जून को निर्धारित की गई है। 2014 के लोकसभा चुनाव में टीएमसी ने राज्य में 34 सीटें जीती थीं, जबकि बीजेपी को 2 सीटों से संतोष करना पड़ा था। सीपीआई (एम) ने 2 सीटें जीतीं, जबकि कांग्रेस को 4 सीटें मिलीं। हालांकि, बीजेपी ने 2019 के चुनावों में बीजेपी ने काफी बेहतर प्रदर्शन किया, टीएमसी की 22 सीटों के मुकाबले 18 सीटें जीतीं।

यह वीडियो भी देखें-

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.