अमेरिका में गूंजा मोदी-मोदी का नारा, बारिश के बावजूद सैकड़ों लोगों ने तिरंगा फहराकर किया भव्य स्वागत

विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि मोदी बाइडन द्वारा बुलाई गई कोविड 19 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। इस द्विपक्षीय वार्ता में अफगानिस्तान का मुद्दा महत्वपूर्ण होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका पहुंच चुके हैं। प्रधान मंत्री मोदी एक विशेष एयर इंडिया वन से भारत से अमेरिका पहुंचे हैं। मोदी 23 सितंबर को भारतीय समयानुसार सुबह करीब 4 बजे अमेरिकी राजधानी वाशिंगटन पहुंचे। यहां ज्वाइंट बेस एंड्रयूज एयरपोर्ट पर भारतीयों ने मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया। इसकी कुछ तस्वीरें खुद मोदी ने सोशल नेटवर्क पर शेयर की हैं।

बारिश के बावजूद बड़ी संख्या में उपस्थित थे भारतीय
प्रधानमंत्री मोदी जब वाशिंगटन पहुंचे तो हल्की बारिश हो रही थी। हालांकि, मोदी के स्वागत के लिए सैकड़ों भारतीय हवाईअड्डे के बाहर खड़े थे। मोदी-मोदी के नारे लगा रहे ये भारतीय तिरंगा भी फहरा रहे थे। पड़ोसी बांग्लादेश को छोड़कर, कोरोना प्रकोप के बाद से मोदी का यह पहला बड़ा विदेश दौरा है। अमेरिकी अधिकारियों ने मोदी का स्वागत किया। मोदी के स्वागत के लिए अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू भी मौजूद थे। मोदी ने एयरपोर्ट के बाहर जमा समर्थकों से हाथ मिलाया और उनका अभनिंदन किया।

लोगों में उत्साह और खुशी
वहां मौजूद एक शख्स ने कहा, ‘हम मोदी को देखकर बहुत खुश हैं। मोदी को देखने के लिए हमें बारिश में खड़ा होना पड़े तो भी कोई बात नहीं।’ साथ ही, यहां एकत्रित भारतीय महिलाओं में से एक ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की यात्रा भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच संबंधों को मजबूत करने में मददगार होगी।  कोरोना और अफगानिस्तान के मुद्दों के संदर्भ में यह यात्रा महत्वपूर्ण है। मोदी एक विश्व नेता हैं,जो किसी भी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हम भारतीय हैं और वे लाखों भारतीयों का प्रतिनिधित्व करते हैं।

पीएम ने ट्वीट कर दिया ये संदेश
-प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 सितंबर को संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए रवाना होते हुए कहा, “संयुक्त राज्य अमेरिका की अपनी यात्रा के दौरान, हम भारत और अमेरिका के साथ-साथ जापान तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच रणनीतिक साझेदारी को और मजबूत करेंगे।”

-संयुक्त राज्य अमेरिका में महासभा में भाग लेने के लिए रवाना होने से पहले उन्होंने कहा, “हम कोरोना, आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन और अन्य महत्वपूर्ण मुद्दों पर संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे।” प्रधानमंत्री मोदी ने 22 सितंबर की सुबह अमेरिका के लिए रवाना होने के बाद एक ट्वीट संदेश में विमान से अपनी एक तस्वीर पोस्ट की।

-हम राष्ट्रपति जो बाइडेन के निमंत्रण पर 22 से 25 सितंबर तक संयुक्त राज्य अमेरिका के दौरे पर जा रहे हैं। यह यात्रा भारत और अमेरिका के बीच संयुक्त और व्यापक साझेदारी को और मजबूत करेगी। मोदी ने कहा, “हम बाइडन के साथ क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करेंगे।”

-मोदी ने कहा कि वह क्वाड बैठक में भाग लेंगे, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई प्रधान मंत्री स्कॉट मॉरिसन, जापानी प्रधान मंत्री योशीहिदे सुगा और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन भी शामिल होंगे। क्वाड देशों की वर्चुअल बैठक मार्च में हुई थी लेकिन अब इन नेताओं से व्यक्तिगत रूप से मिलने का अवसर है। इस दौरान मार्च की बैठक के परिणाम की समीक्षा की जाएगी। हिंद-प्रशांत क्षेत्र की स्थिति पर भी चर्चा की जाएगी।

कोविड19 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे पीए
इस बीच, विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने कहा है कि मोदी बाइडन द्वारा बुलाई गई कोविड 19 शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। इस द्विपक्षीय वार्ता में अफगानिस्तान का मुद्दा महत्वपूर्ण होगा। 24 सितंबर की शाम को मोदी महासभा सत्र के लिए न्यूयॉर्क के लिए रवाना होंगे। प्रधानमंत्री मोदी अमेरिका की प्रमुख कंपनियों के सीईओ से भी मुलाकात करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here