प्रधानमंत्री ने बोला कांग्रेस पर हमला, बताया 2014 से पहले देश का कैसा था हाल

प्रधानमंत्री ने कहा कि दो बार प्रधानमंत्री बनना नहीं, बल्कि योजनाओं का शत प्रतिशत सैचुरेशन उनका लक्ष्य है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपनी सरकार के आठ वर्षों के कार्यकाल को गरीब कल्याण को समर्पित बताते हुए कहा कि 2014 में भाजपा के सत्ता में आने पर देश की आधी आबादी शौचालय, बैंक खाते, बिजली कनेक्शन और टीकाकरण जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित थी। उन्होंने कहा कि इन वर्षों में हम सभी के प्रयासों से अनेक योजनाओं को शत प्रतिशत सैचुरेशन के करीब ला पाए हैं।

गुजरात में आयोजित किया गया उत्कर्ष समारोह
प्रधानमंत्री मोदी 12 मई को गुजरात के भरूच में आयोजित ‘उत्कर्ष समारोह’ को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित कर रहे थे। यह कार्यक्रम जिले में राज्य सरकार की चार प्रमुख योजनाओं के 100 प्रतिशत पूरे होने के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया था। उन्होंने कहा कि आज का ये उत्कर्ष समारोह इस बात का प्रमाण है कि जब सरकार ईमानदारी से, एक संकल्प लेकर लाभार्थी तक पहुंचती है, तो कितने सार्थक परिणाम मिलते हैं।

ये भी पढ़ें – पाकिस्तानी सुंदरी के जाल में फंस गया वायुसेना का जवान, फिर करने लगा ऐसा काम!

तुष्टीकरण की राजनीति को लेकर प्रधानमंत्री ने कहा कि जब सरकारी योजनाएं जनता के लाभ के लिए शत प्रतिशत कवरेज प्राप्त करती हैं, तो तुष्टिकरण की राजनीति समाप्त हो जाती है। इससे लोगों के साथ समान व्यवहार होता है। उन्होंने कहा, “देश ने शत प्रतिशत लाभार्थियों तक पहुंचने का संकल्प लिया है। जब शत प्रतिशत पहुंचते हैं तब सबसे पहला मनोवैज्ञानिक परिवर्तन आता है वो बहुत महत्वपूर्ण है। उसमें देश का नागरिक याचक की अवस्था से बाहर निकल जाता है।” उन्होंने आगे कहा, “शत-प्रतिशत लाभार्थियों की कवरेज यानि हर मत, हर पंथ हर वर्ग को एक समान रूप से सबका साथ, सबका विकास। गरीब कल्याण की हर योजना से कोई छूटे ना, कोई पीछे ना रहे।”

एक राजनीतिक विरोधी से संवाद का हवाला देते प्रधानमंत्री ने कहा कि दो बार प्रधानमंत्री बनना नहीं बल्कि योजनाओं का शत प्रतिशत सैचुरेशन उनका लक्ष्य है। प्रधानमंत्री ने कहा, “मैंने पहले भी कहा कि ऐसे काम कठिन होते हैं, राजनेता भी उन पर हाथ लगाने से डरते हैं। लेकिन मैं राजनीति करने के लिए नहीं, देशवासियों की सेवा करने के लिए आया हूं। देश ने संकल्प लिया है, शत-प्रतिशत लाभार्थियों तक पहुंचने का।” उन्होंने कहा कि हमारी सरकार सामाजिक सुरक्षा, जन कल्याण और गरीब की गरिमा के लिए है। गरीब की गरिमा के लिए संकल्प और गरीब की गरिमा के संस्कार, यही तो हमें प्रेरित करते हैं।

आम लोगों में सरकारी योजनाओं की जानकारी के अभाव का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि अक्सर जानकारी के अभाव में अनेक लोग योजनाओं के लाभ से वंचित रह जाते हैं। कभी-कभी योजनाओं कागज पर रह जाती हैं। लेकिन जब इरादा साफ हो, नीति साफ हो, नेकी से काम करने का इरादा हो, सबका साथ-सबका विकास की भावना हो, तो इससे नतीजे भी मिलते हैं।

सरकार के आठ साल पूरे होने के उपलक्ष्य में प्रधानमंत्री ने कहा कि दिल्ली से देश की सेवा करते हुए मुझे 8 साल पूरे हो रहे हैं। ये 8 वर्ष सेवा सुशासन और गरीब कल्याण को समर्पित रहे। उन्होंने कहा, “2014 में जब आपने हमें सेवा का मौका दिया था तो देश की करीब-करीब आधी आबादी शौचालय की सुविधा से, टीकाकरण की सुविधा से, बिजली कनेक्शन की सुविधा से, बैंक अकाउंट की सुविधा से वंचित थी। इन वर्षों में हम, सभी के प्रयासों से अनेक योजनाओं को शत प्रतिशत सैचुरेशन के करीब ला पाए हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here