Manish Kumar Verma: पूर्व IAS अधिकारी मनीष कुमार वर्मा को जेडीयू में मिला ये पद, CM नीतीश के हैं करीबी

वर्ष 2021 में वीआरएस लेने के बाद मनीष कुमार वर्मा लगातार किसी न किसी भूमिका में नीतीश कुमार के साथ काम करते रहे हैं।

63

पूर्व आईएएस अधिकारी मनीष कुमार वर्मा (Manish Kumar Verma) ने मंगलवार (9 जुलाई) को जनता दल (यूनाइटेड) (Janata Dal (United) में प्रवेश किया। अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने उन्हें पार्टी में बड़ी जिम्मेदारी दी है। मनीष कुमार वर्मा को जेडीयू का राष्ट्रीय महासचिव (National General Secretary) बनाया गया है। नीतीश कुमार ने उन्हें तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीय महासचिव नियुक्त किया है। गुरुवार (11 जुलाई) को जेडीयू महासचिव (JDU General Secretary) अफाक अहमद खान ने पत्र जारी कर इस संबंध में जानकारी दी।

बता दें कि 9 जुलाई को पटना में मनीष कुमार वर्मा के नाम को लेकर काफी चर्चा रही। पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष संजय झा ने उन्हें सदस्यता दिलाई। इस मौके पर खुद नीतीश कुमार मौजूद नहीं थे, लेकिन जेडीयू नेताओं और कार्यकर्ताओं की भीड़ थी।

 

जानिए मनीष कुमार वर्मा ने क्या कहा
मनीष कुमार वर्मा ने वीआरएस लेकर नौकरी छोड़ दी है। जेडीयू में शामिल होते ही मनीष कुमार वर्मा ने मंगलवार को कहा, “पहले मैं नीतीश जी के दिल में था और अब उनकी पार्टी में शामिल हो गया हूं। यहां मौजूद सभी नेताओं से मुझे कुछ न कुछ सीखने का मौका मिला है।”

मनीष वर्मा कौन हैं?
मनीष कुमार वर्मा 2014 में पटना के जिला मजिस्ट्रेट के पद पर कार्यरत रह चुके हैं। इसके बाद उन्हें पूर्णिया का डीएम भी बनाया गया। वे मूल रूप से नालंदा के रहने वाले हैं। वर्ष 2000 में वे ओडिशा कैडर के आईएएस अधिकारी बने और सबसे पहले ओडिशा के कालाहांडी में सब-कलेक्टर बनाए गए। पांच साल की सेवा के बाद उन्हें पहली बार मलकानगिरी जिले का डीएम बनाया गया।

देखें यह वीडियो – 

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.