Fire: गाजीपुर लैंड-फिल आग आप के भ्रष्टाचार का परिणाम! जानिये, बीजेपी के आरोप पर क्या बोलीं आतिशी?

गाजीपुर लैंड-फिल में लगी आग पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आरोप लगाया कि यह आग आप के भ्रष्टाचार के परिणाम हैं।

86

Fire: दिल्ली के गाजीपुर लैंड-फिल(Ghazipur Land-fill) में 21 अप्रैल को लगी आग अभी बूझी नहीं(the fire is not extinguished yet) है। इससे 22 अप्रैल को भी धुआं निकलता रहा (Smoke kept coming out)। इससे आसपास के लोगों का जीना मुहाल(Difficult life for people nearby) है। इस मामले पर एक बार फिर से राजनीति शुरू हो गई है। जानकार कहते हैं कि अगर लैंड-फिल को साफ करने के लिए पहले की तरह 25 गाड़ियां लगाई गई होती तो आज 10 फायर ब्रिगेड(fire brigade) की जरूरत नहीं पड़ती।

भाजपा का आरोप
गाजीपुर लैंड-फिल में लगी आग पर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) ने आरोप लगाया कि यह आग आप के भ्रष्टाचार के परिणाम हैं, इस आरोप के बाद दिल्ली सरकार की मंत्री और आप नेता आतिशी ने कहा कि कूड़े का पहाड़ भाजपा की देन है लेकिन आग लगने की इस घटना की जांच होगी। गाजीपुर लैंड-फिल पर लगी आग पर दिल्ली सरकार की मंत्री और आप नेता आतिशी ने 22 अप्रैल को मीडिया से बातचीत में कहा कि आप सरकार के सत्ता में आने के बाद से कूड़े के पहाड़ों की ऊंचाई और चौड़ाई लगातार कम हो रही है लेकिन भाजपा ने दिल्ली में 15 साल से जो गंदगी फैलाई है, उसे साफ करने में आप सरकार को कुछ समय लगेगा।

केजरीवाल पर वॉर
आप नेता के इस बयान को दिल्ली प्रदेश भाजपा के पदाधिकारियों और निगम में विपक्ष के नेता ने आड़े हाथ लिया है। दिल्ली भाजपा प्रमुख वीरेंद्र सचदेवा ने मीडिया से बातचीत में कहा कि जब नगर निगम चुनाव हो रहे थे, तो आम आदमी पार्टी (आप) और अरविंद केजरीवाल ने घोषणा की थी कि वे दिसंबर 2023 तक इस लैंड-फिल को हटा देंगे, लेकिन यहां भ्रष्टाचार का खेल खेला जा रहा है।

दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग
वीरेंद्र सचदेवा ने यह भी कहा कि कारण प्राकृतिक हैं लेकिन इसके पीछे भ्रष्टाचार है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए। आग लगने के कारणों की जांच होनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि जिस दिन दिल्ली में भाजपा की सरकार बनेगी, एक साल के अंदर दिल्ली के तीनों लैंड-फिल हटा दिए जाएंगे।

जीतने के लिए झूठे वादे करने का आरोप
भाजपा नेता आरपी सिंह ने कहा कि आग 21 अप्रैल को दोपहर से जल रही है। यह भयावह स्थिति है। यह बहुत बड़ी आग है। दिल्ली सरकार आग बुझाने में विफल हो गई है। आरपी सिंह ने कहा कि दिसंबर 2023 में ही लैंडफिल को साफ करने का दावा किया गया था लेकिन दिल्ली सरकार को दिल्ली की परवाह नहीं है। वे चुनाव जीतने के लिए झूठे वादे करते हैं, फिर समस्याओं से बच जाते हैं।

Pitampura : 15 सर्वश्रेष्ठ स्थान जो आपको पीतमपुरा में आज़माने चाहिए

दिल्ली नगर निगम में विपक्ष के नेता सरदार राजा इकबाल सिंह कहा कि यह भाजपा समय के दौरान यहां 25 मशीनें काम करती थीं, अब आधे से ज्यादा काम नहीं कर रही हैं। कचरा बढ़ गया है और उन्हें कोई अन्य रास्ता नहीं मिल रहा है। मुझे यह आम आदमी पार्टी के नेताओं के साथ मिलकर ठेकेदारों को खुश करने और भ्रष्टाचार के माध्यम से पैसा कमाने की शरारत है।

आग पर काबू पाने का दावा
बाद में आप की नेता आतिशी ने सफाई देते हुए कहा कि पूरी रात दिल्ली फायर सर्विस की गाड़ियां मौके पर मौजूद रहीं। आग पर काबू पा लिया गया है। हमें उम्मीद है कि कुछ देर में धुआं भी खत्म हो जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि ‘ दिल्ली के डिप्टी मेयर ने कल शाम घटनास्थल का दौरा किया। दिल्ली के मेयर आज घटनास्थल का दौरा करेंगे। हम जांच करेंगे कि यह आग कैसे और किस प्रक्रिया से लगी।

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.