उत्तर प्रदेश कांग्रेस में पैसे का बोलबाला? प्रियंका को भी नहीं छोड़ा

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के 125 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की है।

राज्य में चुनावी ताप चढ़ चुका है। पार्टियां अपने उम्मीदवार निश्चित करने की जुगत में लगी हैं। इस बीच प्रदेश में अपने पैर पुनर्स्थापित करने के प्रयत्न में जुटी कांग्रेस से आश्चर्य चकित कर देनेवाली घटना सामने आई है। आरोप है कि कांग्रेस पार्टी ने टिकट देने के लिए प्रियंका से ही पैसे मांग लिये। जिसको लेकर अब प्रियंका साक्ष्य के रूप में वीडियो प्रस्तुत करेंगे।

कांग्रेस ने महिलाओं को इस बार अपने मुख्य अभियान में केंद्रित रखा है। प्रियंका गांधी वाड्रा की अगुवाई में नारा दिया गया है ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’। प्रियंका गांधी वाड्रा के इस अभियान की पोस्टर गर्ल थीं, प्रियंका मौर्या। जो कांग्रेस की सक्रिय कार्यकर्ता हैं, और वर्तमान विधान सभा चुनाव में लखनऊ से टिकट की इच्छुक थीं। लेकिन, प्रियंका पोस्टर तक ही सीमित रख दी गईं।

ये भी पढ़ें – उत्तर प्रदेश चुनावः पार्टी छोड़ने वाले मंत्रियों को लोगों ने बताया मौकापरस्त, योगी सरकार के लिए कही ये बात!

मांगे पैसे
कांग्रेस कार्यकर्ता प्रियंका मौर्य ने आरोप लगाया है कि, उन्हें विधान सभा चुनाव के लिए टिकट से वंचित कर दिया गया क्योंकि, उन्होंने पैसा देने से इन्कार कर दिया था। कांग्रेस कार्यकर्ता ने दावा किया कि टिकट उन्हें देने के बजाय एक महीने पहले पार्टी में शामिल हुए व्यक्ति को दिया गया है।

मैंने सभी कार्यों को पूरा किया लेकिन, टिकट पूर्व नियोजित था और एक ऐसे व्यक्ति को दिया गया है जो मात्र एक महीने पहले कांग्रेस में आया है। मैं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को यह संदेश देना चाहती हूं कि, जमीन पर ऐसी घटनाएं हो रही हैं।
प्रियंका मौर्य – कांग्रेस कार्यकर्ता

ओबीसी हैं इसलिए नहीं दिया टिकट
प्रियंका मौर्य ने एक ट्वीट में दावा किया कि उन्हें टिकट नहीं मिला क्योंकि, वह एक ओबीसी लड़की है और प्रियंका गांधी के सचिव संदीप सिंह को रिश्वत नहीं दे सकती थी।

उन्होंने बताया कि, उन्हें एक अज्ञात व्यक्ति का फोन आया था, जिसमें फोन करनेवाले ने उनसे टिकट के बदले पैसे मांगे, जिसके लिए उन्होंने मना कर दिया। प्रियंका मौर्य लखनऊ की सरोजिनी नगर सीट से यूपी चुनाव लड़ना चाहती थीं लेकिन यह सीट रुद्र दमन सिंह को आबंटित की गई है। उन्होंने आगे कहा कि कोई भी टिकट वितरण में चल रही धांधली का मुद्दा नहीं उठाना चाहता और दावा किया कि कांग्रेस में जातिवाद के कारण विधायक नरेश सैनी को पार्टी छोड़नी पड़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here