नवनियुक्त अधिकारी-कर्मचारी पारदर्शी एवं लोकाभिमुख काम करेंः मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे

मुंबई के यशवंतराव चव्हाण प्रतिष्ठान में आयोजित राज्यस्तरीय रोजगार मेला का आयोजन 3 नवंबर को किया गया था।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि 3 नवंबर को रोजगार मेले के माध्यम से नियुक्ति पत्र प्राप्त करने वाले प्रदेश के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी पारदर्शी एवं लोकाभिमुख काम करें। उन्होंने कहा कि आजादी के 75 वें साल के उपलक्ष्य में राज्य सरकार सूबे के 75 हजार युवकों को सरकारी नौकरियां उपलब्ध करवाएगी।

मुंबई के यशवंतराव चव्हाण प्रतिष्ठान में आयोजित राज्यस्तरीय रोजगार मेला का आयोजन 3 नवंबर को किया गया था। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे एवं उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में कोंकण विभाग के पात्र उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र दिया गया। मुख्यमंत्री श्री शिंदे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमृत महोत्सव वर्ष के अवसर पर 10 लाख नौकरियां देने की घोषणा की। इसके तहत ही महाराष्ट्र सरकार आने वाले वर्ष में 75 हजार युवकों को नौकरी देने वाली है।

इसी कड़ी में आज कोंकण संभागीय कार्यक्रम के प्रथम चरण में लगभग 600 अभ्यर्थियों को नियुक्ति पत्र उपलब्ध कराये गये हैं तथा प्रदेश में लगभग दो हजार अभ्यर्थियों को संभाग स्तर पर नियुक्ति पत्र प्रदान किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा, ”प्रदेश में भर्ती प्रक्रिया को लागू करते हुए एमपीएससी को प्राथमिकता दी जा रही है और इसे मजबूत किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें – उतराखंड की तरह हिमाचल प्रदेश में भी बदलेगा रिवाज? भाजपा प्रवक्ता ने किया ये दावा

देश के सभी राज्यों से की अपील 
उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के सभी राज्यों से अपील की थी कि केंद्र सरकार देश में अमृत महोत्सव के मौके पर दस लाख लोगों को रोजगार मुहैया कराएगी। उनके आवाहन का जवाब देने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य बन गया है।

इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर, कौशल विकास मंत्री और मुंबई उपनगरीय जिले के संरक्षक मंत्री मंगल प्रभात लोढ़ा, लोक निर्माण मंत्री रवींद्र चव्हाण मुख्य सचिव मनुकुमार श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here