बोले बृजभूषण शरण सिंह, ऐसा हुआ तो फांसी पर लटक जाऊंगा

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिला में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि दिल्ली पुलिस केस की जांच कर रही है।

151

भारतीय कुश्ती महासंघ (Indian Wrestling Federation) के निवर्तमान अध्यक्ष और भाजपा सांसद बृजभूषण शरण सिंह (BJP MP Brij Bhushan Sharan Singh) ने महापंचायत (Maha Panchayat) के बीच बयान दिया है। बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) जांच कर रही है। पहली बार 18 जनवरी को जब ये लोग धरने पर बैठे थे तो पहले कुछ मांग थी और अब कुछ और। ये लोग लगातार अपनी मांगों और शर्तों को बदल रहे हैं, पहले भी कहा था कि अगर आरोप सही हुए तो मैं फांसी (Hanging) पर लटक जाऊंगा, आज भी यही कह रहा हूं।

उत्तर प्रदेश के गोंडा जिला में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बृजभूषण शरण सिंह ने कहा कि मामले की जांच दिल्ली पुलिस कर रही है, मैं अपने स्टैंड पर कायम हूं। पुलिस जांच में जो भी आएगा, जो भी रास्ता न्यायलय दिखाएगा उस पर में चलूंगा। अगर मैं दिल्ली पुलिस की जांच में गलत साबित हुआ तो मुझे सजा मिलेगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कौन क्या कह रहा है इससे मुझे कोई लेना देना नहीं है। अगर एक भी आरोप साबित हुआ तो मुझे फांसी पर लटका दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- हिमाचल प्रदेश में बड़ी दुर्घटना, यात्रियों से भरी बस खाई में गिरी; कई घायल

ये पदक अब हमें नहीं चाहिए: पहलवान साक्षी मलिक
गौरतलब हो कि जंतर-मंतर पर धरना दे रहे पहलावनों को पुलिस ने हिरासत में लेने के बाद उन्हें धरना स्थल से हटा दिया है। वहीं धरना स्थल से हटाने के बाद पहलवानों ने कहा था कि वे कड़ी मेहनत से जीते अपने पदक गंगा नदी में बहा देंगे और इंडिया गेट पर ‘आमरण अनशन’ पर बैठेंगे। वहीं वह अपना पदक लेकर गंगा नदी में बहाने के लिए हरिद्वार भी पहुंचे। हालाकि, भारतीय किसान यूनियन नेता नरेश टिकैत ने उन्हें रोक लिया। इस दौरान महिला पहलवान साक्षी मलिक ने कहा था कि ‘ये पदक अब हमें नहीं चाहिए क्योंकि इन्हें पहनाकर हमें मुखौटा बनाकर यह तंत्र सिर्फ अपना प्रचार करता है और फिर हमारा शोषण करता है। हम उस शोषण के खिलाफ बोलें तो हमें जेल में डालने की तैयारी कर लेता है।

देश का झंडा विदेश में लेकर चलते हैं: राकेश टिकैत
इस बीच मुजफ्फरनगर के शोरम गांव में किसानों ने पहलवानों के समर्थन में खाप महापंचायत हुई। इसमें किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा, ‘शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन करते हुए बच्चों को उठाया गया है।’ यहां फैसला सुरक्षित है, लेकिन खाप प्रतिनिधि राष्ट्रपति से मिलेंगे। किसान नेता ने कहा, ”आरोप लगाए जा रहे हैं कि ये बच्चे झूठ बोल रहे हैं। सरकार की चाल है कि यूपी में हिंदू-मुस्लिम, बिहार में लालू का परिवार टूटा, हरियाणा में चौटाला परिवार टूटा, गुजरात में भी ऐसा ही किया। पहलवान किसी जाति के नहीं होते, उनकी जाति तिरंगा है। हम देश का झंडा भी लेकर चलते हैं न कि विदेश में अपनी पार्टी का झंडा। अगर न्याय नहीं मिला तो वे पूरे देश में लड़ाई लड़ेंगे।”

देखें यह वीडियो- हिंदू नाबालिग लड़की की हत्या पर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री का आया बड़ा बयान

Join Our WhatsApp Community

Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.