इजरायल-फिलिस्तीन में थमा खूनी संघर्ष! जानिये, किसकी मध्यस्थता के बाद दोनों पक्षों ने की ये घोषणा

11 दिनों से इजरायली सेना और हमास के बीच जारी खूनी संघर्ष पर विराम लगता दिख रहा है। दोनों पक्षों द्वारा संघर्ष विराम की घोषणा के बाद यह उम्मीद जागी है।

इजरायल और फिलिस्तीन के बीच खूनी संघर्ष थमता हुआ नजर आ रहा है। दोनों देशों के बीच युद्धविराम की घोषणा के बाद यह उम्मीद की जा रही है। विश्व भर के देशों ने दोनों देशों की इस घोषणा पर खुशी जाहिर की है। इसी के साथ पिछले 11 दिनों से इजरायली सेना और हमास के बीच जारी खूनी संघर्ष पर विराम लगता दिख रहा है।

बता दें कि पिछले 11 दिनों में दोनों पक्षों की ओर से हजारों रॉकेट दागे गए। इसमें कम से कम 300 लोगों की मौत हो गई, जबकि सैकड़ों लोग घायल हो गए हैं। मारे गए लोगों में 257 फिलिस्तीनी और बाकी इजरायली हैं। इसके साथ ही हजारों लोगों ने हमले वाले इलाकों को छोड़ दिया है।

इजरायल ने कही थी ये बात
इस बीच इजरायल ने अपने हमले जारी रखने की बात कही थी। लेकिन अब दोनों देशों के बीच युद्ध विराम की घोषणा के बाद उम्मीद की जा रही है कि दोनों पक्ष शांति के लिए पहल करेंगे।

ये भी पढ़ेंः ये भी पढ़ेंः गढ़चिरौली में मुठभेड़ः 13 नक्सली ढेर, कई घायल

मिस्र की पहल पर संघर्ष विराम
बता दें कि 20 मई को इजरायली सुरक्षा कैबिनेट ने सर्वसम्मति से द्विपक्षीय बिना शर्त युद्धविराम के लिए मिस्र की पहल पर सहमति जताई। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटरेस ने दोनों पक्षों के बीच इस संघर्ष विराम का स्वागत किया है। उन्होंने सभी पक्षों से इसका पालन करने का आह्वान किया। गुटरेस ने कहा,’मैं 11 दिनों से जारी खूनी संघर्ष के बाद गाजा और इजरायल के बीच संघर्ष विराम का स्वागत करता हूं। मैं सभी पक्षों से युद्धविराम का पालन करने का आह्वान करता हूं।’

इन्होंने ने भी जताई खुशी

  • यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल ने भी इजरायल और गाजा पट्टी स्थित हमास इस्लामिक समूह द्वारा किए गए संघर्ष विराम की घोषणा का स्वागत किया है।
  • अमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिकेन ने कहा है कि उन्होंने इजरायल और फिलिस्तिनी नेताओं के साथ बात की और उनके निर्णय का स्वागत किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here