स्वातंत्र्यवीर सावरकर के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी पर BJP ने जताया विरोध, कहा, खड़गे अशिक्षित व्यक्ति, जानें पूरा मामला

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने जानकारी दी है कि स्वातंत्र्यवीर वीर सावरकर के बारे में इस अपमानजनक और विवादास्पद बयान के कारण राज्य भर में विभिन्न स्थानों पर खड़गे पुत्र के खिलाफ प्रदर्शन किए जाएंगे।

1399

स्वातंत्र्यवीर वीडी सावरकर (Swatantraveer VD Savarkar) के खिलाफ निराधार बयानबाजी करने की कांग्रेस (Congress) की आदत जगजाहिर है। कांग्रेस ने एक बार फिर राजनीतिक लाभ के लिए भारत की आजादी की खातिर कठोर कारावास और यातना सहने वाले वीर सावरकर का अपमान कर विवाद पैदा कर दिया है। अपना राजनीतिक स्वार्थ (political interest) साधने में जुटी कांग्रेस पार्टी ने स्वातंत्र्यवीर वीर सावरकर को लेकर विवादित बयान दिया है। इस पर B J P ने कड़ा विरोध प्रकट किया है।

B J P ने सीढ़ियों पर बैठकर जताया विरोध
कर्नाटक के कांग्रेस विधायक और सिद्धारमैया सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रियांक खड़गे ने स्वातंत्र्यवीर वीर सावरकर को लेकर विवादित बयान दिया है। इसी के चलते शुक्रवार 8 दिसंबर को B J P की ओर से महाराष्ट्र विधानमंडल की सीढ़ियों पर सार्वजनिक तौर पर कांग्रेस का विरोध किया गया।  खड़गे ने कहा कि अगर वे विधान सभा के अध्यक्ष होते तो बेलगावी में सुवर्ण विधानसभा से वीर सावरकर की तस्वीर हटा देते। वीर सावरकर का योगदान क्या है? बीजेपी बताए कि सावरकर को वीर की उपाधि कैसे मिली?

खड़गे को विधानसभा का सबसे अशिक्षित व्यक्ति
कर्नाटक के भाजपा विधायक भरत शेट्टी ने प्रियांक खड़गे के बयान पर कहा कि अगर विधानसभा से सावरकर की तस्वीर हटाई गई तो भारी विरोध दर्ज कराया जाएगा। शेट्टी ने खड़गे को विधानसभा का सबसे अशिक्षित व्यक्ति भी ठहराया। वहीं महाराष्ट्र भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा है कि स्वातंत्र्यवीर वीर सावरकर के बारे में इस अपमानजनक और विवादास्पद बयान के कारण राज्य भर में विभिन्न स्थानों पर खड़गे पुत्र के खिलाफ प्रदर्शन किए जाएंगे।

यह भी पढ़ें – आरबीआई ने Repo Rate 6.50 फीसदी पर रखा कायम, जानें 2023-24 में कितनी रहेगी जीडीपी ग्रोथ

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.