पाकिस्तानः बिलावल भुट्टो बन सकते हैं अगले विदेश मंत्री, हिना रब्बानी की इस पद पर रिएंट्री?

गठबंधन की शर्तों के अनुसार पीपीपी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) में मंत्रालयों का समान रूप से बंटवारा किया जाएगा।

पाकिस्तान की नई शहबाज शरीफ की गठबंधन सरकार में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के अध्यक्ष बिलावल भुट्टो देश के अगले विदेश मंत्री बन सकते हैं। पाकिस्तान की पूर्व विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार को उप-विदेश मंत्री बनाए जाने की संभावना है।

जानकारी के अनुसार गठबंधन की शर्तों के अनुसार पीपीपी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) में मंत्रालयों का समान रूप से बंटवारा होगा। पीएमएल-एन सभी बड़े विभाग जैसे वित्त मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय और गृह मंत्रालय अपने पास रखेगी, वहीं विदेश मंत्रालय और मानवाधिकार से जुड़े मंत्रालय पीपीपी को मिलेंगे।

ये भी पढ़ें – उप्र: बस और बोलेरो में आमने-सामने की टक्कर, 6 लोगों की मौत

बिलावल पहले विदेश मंत्री का पद लेने को नहीं थे तैयार
माना जा रहा है कि बिलावल पहले विदेश मंत्री का पद लेने के लिए तैयार नहीं थे। उन्हें लगता था कि इससे पार्टी चेयरमैन के तौर पर उनके काम पर असर पड़ेगा, लेकिन पार्टी के लोगों ने उनको पूर्व विदेश मंत्री हिना रब्बानी खार के साथ इस पद को लेने के लिए कहा। इस फॉर्मूले के तहत बिलावल भुट्टो विदेश मंत्रालय के सभी बड़े काम देखेंगे और विदेशी दौरे करेंगे। वहीं विदेश मंत्रालय के रोजमर्रा के काम हिना रब्बानी खार देखेंगी।

कौन हैं हिना रब्बानी
उल्लेखनीय है कि हिना रब्बानी खार 2011 से 2013 तक पाकिस्तान की विदेश मंत्री रह चुकी हैं। हिना रब्बानी पाकिस्तान की पहली सबसे युवा विदेश मंत्री थीं। यूसुफ रजा गिलानी की सरकार में हिना रब्बानी खार को विदेश मंत्री बनाया गया था। उस वक्त उनकी उम्र मात्र 33 साल थी। इत्तेफाक से बिलावल भुट्टो भी इसी उम्र में पाकिस्तान के विदेश मंत्री बनने जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here