सुशासन बाबू के लिए बिहार खरीदेगा 250 करोड़ का हेलीकॉप्टर, मोदी के निशाने पर नीतीश

बिहार की महागठबंधन सरकार ने 250 करोड़ का विशेष सुविधाओं से संपन्न हेलीकॉप्टर खरीदने का निर्णय लिया है। भाजपा सांसद सुशील कुमार मोदी ने इसे लेकर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है।

पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने 28 दिसंबरस को कहा कि 250 करोड़ का 12-सीटर जेट प्लेन और 100 करोड़ का 10-सीटर हेलीकॉप्टर खरीदने का सरकार का फैसला बिहार जैसे गरीब राज्य की जनता के पैसे का खुला दुरुपयोग है। इसका जनता की सेवा से कोई लेना-देना नहीं।

भाजपा सांसद ने कहा कि नीतीश कुमार विपक्षी एकता के लिए देश भर में दौरा करने और प्रधानमंत्री बनने का सपना पूरा करने के लिए बिहार के खजाने पर 350 करोड़ से अधिक का बोझ डालने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब नीतीश कुमार ने अपने 15 साल के शासनकाल में अब तक कोई विमान-हेलीकप्टर नहीं खरीदा, तब क्या वे अपने उत्तराधिकारी के लिए यह खरीद करवाना चाहते हैं?

केवल चार हवाई अड्डे पर उतारा जा सकेगा जेट विमान
सुशील मोदी ने कहा कि जो जेट विमान खरीदा जाने वाला है, उसे बिहार के केवल चार हवाई अड्डों के रनवे पर उतारा जा सकता है। अब राज्य सरकारें नया विमान या हेलीकॉप्टर खरीदने के बजाय इसे किराये पर लेना किफायती समझती हैं। विमान खरीदने पर पायलट, इंजीनियर की नियुक्ति से लेकर इसके रख-रखाव पर भारी खर्च करना पड़ता है।

पांच साल से किराए पर लिया जा रहा है हेलीकॉप्टर
भाजपा नेता ने कहा कि बिहार सरकार भी पांच साल से किराये पर ही हेलीकॉप्टर ले रही है। वर्ष 2005 में राज्यपाल बूटा सिंह के समय 14.5 करोड़ रुपये में किंग एयर का जो 6-सीटर विमान खरीदा गया था, वह अब भी उड़ान के योग्य (ऑपरेशनल) है। उन्होंने कहा कि 1989 में सत्येन्द्र नारायण सिन्हा की सरकार ने 7 करोड़ की लागत से दो हेलीकॉप्टर खरीदे थे। इनमें एक हेलीकॉप्टर का इंजन बदल कर उड़ान के लायक बनाया जा सकता है। इस पर मात्र 2.5 करोड़ रुपये के खर्च का अनुमान है लेकिन सरकार विमान-हेलीकॉप्टर खरीदने के लिए 350 करोड़ से अधिक खर्च करना चाहती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here