संयुक्त राष्ट्र महासचिव की टिप्पणी से नाराज CAM ने भी मांगा इस्तीफा, कही ये बात

कॉम्बैट एंटीसेमिटिज्म मूवमेंट के सीईओ साचा रॉयटमैन ड्रेटवा ने कहा है कि यह जानकर आश्चर्य होता है कि गुटेरेस वास्तविकता से कितने दूर हैं। पिछले कुछ हफ्तों में हमारी पीढ़ी को यह प्रतिबिंबित करने और बेहतर ढंग से समझने का मौका मिला है कि कैसे वैश्विक निर्णय निर्माताओं और राय बनाने वालों की चुप्पी और मिलीभगत के कारण नरसंहार होने दिया गया।

55

इजराइल (israel) के विदेश मंत्री एली कोहेन के बाद अब गैरलाभकारी संगठन कॉम्बैट एंटीसेमिटिज्म मूवमेंट (CAM) ने भी संयुक्त राष्ट्र महासचिव (UN Secretary General) एंटोनियो गुटेरेस की टिप्पणी पर गहरी नाराजगी जताई है। गुटेरेस ने सात अक्टूबर के हमास (Hamas) नरसंहार के लिए इजराइल को दोषी ठहराया था। हमास के इस आक्रामण में 1,400 इजराइलियों की मौत हो गई थी। हमास ने इस दौरान 200 से अधिक लोगों को बंधक बना लिया। सीएएम ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव से इस्तीफे की मांग की है। यह जानकारी मीडिया रिपोर्ट्स में दी गई है।

गुटेरेस को बताया वास्तविकता से दूर
कॉम्बैट एंटीसेमिटिज्म मूवमेंट के सीईओ साचा रॉयटमैन ड्रेटवा ने कहा है कि यह जानकर आश्चर्य होता है कि गुटेरेस वास्तविकता से कितने दूर हैं। पिछले कुछ हफ्तों में हमारी पीढ़ी को यह प्रतिबिंबित करने और बेहतर ढंग से समझने का मौका मिला है कि कैसे वैश्विक निर्णय निर्माताओं और राय बनाने वालों की चुप्पी और मिलीभगत के कारण नरसंहार होने दिया गया। यह नरसंहार नाजी जैसा था। उन्होंने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रूप में गुटेरेस को तत्काल इस्तीफा (resignation) दे देना चाहिए।

कोहेन ने रद्द की संयुक्त राष्ट्र महासचिव से मुलाकात
उल्लेखनीय है कि इससे पहले संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने सुरक्षा परिषद की बैठक में कहा था कि हमास ने इजराइल पर हमला अकारण नहीं किया। उनकी इस टिप्पणी पर इजराइल के विदेश मंत्री कोहेन ने कड़ी आपत्ति जताई। वह सुरक्षा परिषद की मंत्रिस्तरीय बैठक में हिस्सा लेने आए थे। उन्हें 24 अक्टूबर, दोपहर संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में गुटेरेस से भी मुलाकात करनी थी। कोहेन ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव के साथ अपनी भेंट को रद्द करते हुए उनपर आतंकवाद को बर्दाश्त करने और उचित ठहराने का आरोप लगाया। इसके बाद संयुक्त राष्ट्र में इजराइल के राजदूत गिलाद एर्दान ने कहा, ‘महासचिव महोदय, आप सारी नैतिकता और निष्पक्षता खो चुके हैं। जब आप ये भयानक शब्द कहते हैं कि ये जघन्य हमले अकारण नहीं हुए हैं तो आप आतंकवाद को सहन कर रहे हैं और आतंकवाद को सहन करके आप आतंकवाद को उचित ठहरा रहे हैं। मुझे लगता है कि आपको महासचिव पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।’

यह भी पढ़ें – Para Asian Games 2023 : पैडलर भाविना पटेल ने महिला एकल-क्लास 4 स्पर्धा में जीता कांस्य पदक

Join Our WhatsApp Community
Get The Latest News!
Don’t miss our top stories and need-to-know news everyday in your inbox.