मंत्री पद के बाद महत्वपूर्ण समितियों में भी दिखा युवा ब्रिगेड का दम! इन्हें मिली जगह

राजनैतिक मामलों की कैबिनेट समिति में भूपेंद्र यादव, सर्बदानंद सोनोवाल और मनसुख मांडविया को स्थान मिला है। इनके अलावा गिरिराज सिंह और स्मृति इरानी भी इस समिति में शामिल हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार के कैबिनेट विस्तार के बाद अब मंत्रियों को अलग-अलग कैबिनेट समितियों में स्थान दिया गया है। 12 जुलाई को इन कैबिनेट समितियों का पुनर्गठन किया गया। इनमें ज्योतिरादित्य सिंधिया, सर्बदानंद सोनोवाल और मनसुख मांडविया को भी स्थान दिया गया है।

राजनैतिक मामलों की कैबिनेट समिति
राजनैतिक मामलों की कैबिनेट समिति में भूपेंद्र यादव, सर्बदानंद सोनोवाल और मनसुख मांडविया को स्थान मिला है। इनके अलावा गिरिराज सिंह और स्मृति इरानी भी इस समिति में शामिल हैं। इन नेताओं को रामविलास पासवान,रविशंकर प्रसाद और डॉ. हर्षवर्धन जैसे नेताओं की जगह पर शामिल किया गया है। केंद्र और राज्य सरकारों से संबंधित मामलों में इस समिति की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। इसके आलावा आर्थिक और राजनीतिक मामलों पर निर्णय लेने में भी इस समिति की राय अहम होती है। इसके साथ ही इन्वेस्टमेंट और ग्रोथ की निगरानी रखनेवाली समिति में ज्योतिरादित्य सिंधिया, नारायण राणे और अश्विनी वैष्णव को स्थान दिया गया है। यह समिति महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स को समय पर पूरा करने के साथ ही अन्य कामों पर भी नजर रखती है। 1000 करोड़ रुपए या इससे अधिक के निवेश मामलों पर कमेटी निर्णय लेती है। यह कमेटी इन्फ्रास्ट्रक्चर मैन्युफैक्चरिंग और अन्य मामलों में भी निर्णय लेती है।

ये भी पढ़ेंः अब अनिल देशमुख के बेटे भी ईडी के रडार पर! ये है मामला

2019 में गठित की गई दो नई समिति
मोदी सरकार ने 2019 में दो नई समितियों का गठन किया था। इनमें इन्वेस्टमेंट एंड ग्रोथ और इंप्लाई एंड स्किल डेवलपमेंट शामिल हैं। अश्विनी वैष्णव और भूपेंद्र यादव को रोजगार एवं स्किल डेवलपमेंट पर बनी कमेटी में स्थान दिया गया है।

इन्हें भी मिला स्थान
संसदीय मामलों की कैबिनेट कमेटी में नए कानून मंत्री बने किरन रिजिजू, सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर, सामाजिक न्याय मंत्री वीरेंद्र कुमार और आदिवासी मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा को स्थान दिया गया है। यह समिति संसद सत्रों के शेड्यूल और पेश किए जाने वाले बिलों के बारे में निर्णय लेती है।

कैबिनेट नियुक्ति समिति
कैबिनेट की नियुक्ति समिति में पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हैं। इनके आलावा आर्थिक मामलों की कमेटी में भी पीएम नरेंद्र मोदी शामिल हैं। इनके आलावा राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस. जयशंकर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, नितिन डकरी और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को भी इसमें शामिल किया गया है। शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी इस समिति में हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here