और इस मुद्दे पर एक साथ आई भाजपा… ओबीसी आरक्षण पर नेता सड़कों पर

ओबीसी समाज के राजनीतिक आरक्षण के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी ने आक्रामक रूप अपना लिया है। जबकि मराठा आरक्षण के रूप में एक उलझी पहेली राज्य सरकार के गले में पहले से ही मौजूद है।

भारतीय जनता पार्टी महाराष्ट्र में अन्य पिछड़ी जातियों के लिए आंदोलन कर रही है। इसके लिए उसके सभी नेता सड़कों पर उतरकर आंदोलन कर रहे हैं। लंबे काल से कयास लग रहा था कि महाराष्ट्र भाजपा में सबकुछ अच्छा नहीं चल रहा है। पार्टी में आयातित नेता सक्रियता से सरकार को कठिन चुनौती दे रहे हैं, जबकि पार्टी के वरिष्ठ क्रम के नेता नाराज होकर शांत बैठे हुए हैं। परंतु, ओबीसी आरक्षण के लिए सभी नेताओं ने दम भरा है। मुंबई, पुणे, नागपुर समेत राज्यभर में नेता कार्यकर्ता सड़कों पर हैं। नागपुर में नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने चक्काजाम आंदोलन किया। इसमें पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पुणे में भारतीय जनता पार्टी की सचिव पंकजा मुंडे के नेतृत्व में आंदोलन किया गया। अपने संबोधन में पंकजा मुंडे ने कहा कि जब तक ओबीसी आरक्षण का हल नहीं निकलेगा चुनाव नहीं होने दिया जाएगा। शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी की राज्यस्तरीय बैठक आयोजित हुई, जिसमें ओबीसी आरक्षण के मुद्दे पर सभी नेता एक मंच पर एक स्वर में बोलते दिखे।

मुंबई में विधान परिषद में नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर ने मुलुंड चेकनाका पर चक्का जाम आंदोलन में हिस्सा लिया। हालांकि, आंदोलन शुरू होते ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया।

मुंबई स्थित भारतीय जनता पार्टी प्रदेश कार्यालय के बाहर भी चक्का जाम आंदोलन किया गया। इस कार्यक्रम में मुंबई भाजपा अध्यक्ष मंगल प्रभात लोढ़ा,  पूर्व मंत्री गिरीष महाजन उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here