कई देशों में बच्चों का टीकाकरण शुरू! भारत में ये है स्थिति

कई देशों ने फिर से स्कूल खोलने की दिशा में तैयारी शुरू कर दी है। इन देशों ने स्कूलों में बच्चों को सुरक्षित करने के लिए उनका टीकाकरण तेजी से शुरू कर दिया है।

कोरोना महामारी में बच्चों की शिक्षा को लेकर केवल भारत में ही नहीं, विश्व भर के करीब सभी देशों में चिंता जताई जा रही है। इस बीच कई देशों ने इस दिशा में कदम उठाते हुए स्कूलों को खोलने की तैयारी शुरू कर दी है। उन्होंने स्कूलों में बच्चों को सुरक्षित करने के लिए उनका तेजी से टीकाकरण शुरू कर दिया है। हालांकि पहली लहर के बाद कई देशों ने स्कूलों को खोलने की इजाजत दे दी थी और विद्यार्थी क्लास में भी आने लगे थे, लेकिन दूसरी लहर आने के बाद फिर से स्कूल बंद कर दिए गए। फिलहाल भारत में अभी तक 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के टीकाकरण की घोषणा नहीं की गई है और लगता नहीं है कि 2021 में यहां बच्चो का टीकाकरण शुरू किया जा सकेगा।

इस बीच अब जब कई देशों में कोरोना की दूसरी लहर कमजोर हो गई है, तब कई देशों में स्कूलों को खोलने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ाए जा रहे हैं। विद्यार्थियों को कोरोना महामारी से सुरक्षित करने के लिए अब 12-18 आयु वर्ग के बच्चों का वैक्सीनेशन शुरु किया गया है। इन बच्चों को टीका के दोनों डोज दिए जाने के बाद स्कूलों में आने की मंजूरी दी जाएगी। विशेषज्ञों का मानना है कि अगले कुछ महीनों में स्कूल फिर से बच्चों से गुलजार होने लगेंगे।

ये भी पढ़ेंः हमारा संकल्प आत्मनिर्भर भारत, सशक्त भारत! जानिये, पीएम ने सीएसआईआर की बैठक में और क्या कहा

बच्चों के टीकाकरण की ये है स्थिति

  • अमेरिका में मध्य मई में बच्चों के टीकाकरण के लिए फाइजर के टीके को सरकार ने मंजूरी दे दी है। उसके बाद वहां विद्यार्थियों का टीकाकरण शुरू कर दिया गया है।
  • हंगरी में 15 मई से 16-18 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण शुरू कर दिया गया है। इस मामले में हंगरी पहला यूरोपीयन देश है। यहां फाइजर और मॉडर्ना वैक्सीन लगाई जा रही है।
  • इटली में 12-15 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण शुरू कर दिया गया है। सरकार ने इसके लिए फाइजर कंपनी द्वारा निर्मित वैक्सीन को मंजूरी दी है।
  • जर्मनी में 12-16 वर्ष के बच्चो का टीकाकरण 7 जून से शुरू किया जाएगा। ये टीका स्वेच्छा से लगवाए जा सकेंगे। वैसै सरकार चाहती है कि सभी बच्चों का टीकाकरण किया जाए।
  • पोलैंड में 7 जून से 12-15 के बच्चों का टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इसके लिए स्कूलों के पास टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं।
  • ब्रिटेन में 12-15 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण के लिए फाइजर ने अनुमति मांगी है और उसे जल्द ही मंजूरी मिलने की संभावना है।
  • फ्रांस में जून से 16-18 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण शुरू किया जाएगा। इसके साथ ही अगले वर्ष 12-15 वर्ष के आयु के बच्चों का भी टीकाकरण किया जाएगा।
  • इजरायल में 16 वर्ष से अधिक आयु के लोगों का टीकाकरण शुरू कर दिया गया है, जबकि 12-16 के आयु वर्ग के बच्चों का वैक्सीनेशन भी जल्द ही शुरू किया जाएगा।
  • कनाडा में अभी बच्चों का टीकाकरण शरू तो नहीं हुआ है, लेकिन देश में इसके लिए तैयारी पूरी कर ली गई है और वैक्सीन का स्टॉक भी मंगा लिया गया है।
  •  यूएई में मई में बच्चों के टीकाकरण की मंजूरी दी गई है। यहां जल्द ही टीकाकरण शुरू किया जाएगा।
  • सिंगापुर में 1 जून से 12-18 वर्ष के बच्चों का टीकाकरण शुरू किया गया है।
  • चिली में 12-16 वर्ष के बच्चों के टीकाकरण की मंजूरी दी जा चुकी है।
  • जापान नें 28 मई से 12 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के टीकाकरण की मंजूरी दी गई है।
  • ऑस्ट्रिया में अगस्त के अंत तक करीब 3.50 लाख बच्चों के टीकाकरण का लक्ष्य बै।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here