मुंबई में रैपिड एक्शन फोर्स का रूट मार्च… क्या कोई खतरे का है अंदेशा? देखें वीडियो

देश में आतंकी गतिविधियों पर कार्रवाई शुरू है। इस सिलसिले में सुरक्षा एजेंसियों ने गुप्त जानकारियों के आधार पर कार्रवाई शुरू कर दी है।

मुंबई में क्या किसी आतंकी खतरे का अंदेशा है? गुरुवार को लोगों के दिमाग में यही प्रश्न गूंजता रहा है। शहर के कई क्षेत्रों में सड़कों पर स्थानीय पुलिस और रैपिड एक्शन फोर्स ने रूट मार्च किया है। इसके वीडियो भी सार्वजनिक हुए हैं। सुरक्षा एजेंसियों की मुस्तैदी लोगों का आत्मविश्वास बढ़ा रही हैं परंतु, गणेशोत्सव के दौरान कोई खतरा है क्या, इसको लेकर थोड़ी चिंता भी है।

मुंबई पुलिस और त्वरित कार्य बल (रैपिड एक्सन फोर्स) ने शहर के सायन, माटुंगा, वडाला, एंटॉप हिल, कालाचौकी, परेल, भोईवाडा में रूट मार्च किया। अभी मंगलवार को ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने कोटा से जान मोहम्मद उर्फ समीर कालिया को गिरफ्तार किया है। कालिया दाऊद गिरोह के साथ संलग्न है। वह गोल्डन एक्सप्रेस ट्रेन से दिल्ली जा रहा था उस दौरान कोटा से गिरफ्तार किया गया है। जान मोहम्मद पाकिस्तान प्रायोजित और आतंकी दाऊद इब्राहिम कासकर गिरोह पोषित गैंग का हिस्सा है।

हवाला के जरिये फंडिंग
पाकिस्तान में छिपे आतंकी दाऊद के भाई अनीस कासकर के संपर्क में जान मोहम्मद था। उस पर 20 वर्ष पहले गोलीबारी के एक प्रकरण दर्ज किया गया था। सूत्रों के अनुसार जान मोहम्मद को हवाला के माध्यम से फंडिंग की जा रही थी। जिससे आतंकी गतिविधियों के लिए संसाधन खरीदे जा सकें। इस प्रकरण में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here